खाली पेट लौंग की चाय पीने के यह 8 चमत्कारी फायदे जानेंगे, तो आश्चर्य में पड़ जाएंगे आप

खाली पेट लौंग की चाय पीना कितना फायदेमंद हो सकता है। क्या आप जानते हैं खाली पेट लौंग की चाय पीना हमारी सेहत के लिए बहुत ज्यादा फायदेमंद होता है। आज हम इसी के बारे में पूरी तरह जानेंगे।

खाली पेट लौंग की चाय पीने के फायदे
खाली पेट लौंग की चाय पीने के फायदे

जब आप सुबह-सुबह लॉन्ग की गरम चाय पीते हैं और आपका पेट खाली होता है तो उसका क्या असर होता है? क्यों यह इतनी पॉपुलर है? इसके पीछे क्या राज़ है? आज हम इसके बारे में डिटेल में जानेंगे।

आप इसके फायदे जानकर चौंक जाएंगे क्योंकि हम अपने हाल ही में किए गए रिसर्च के डाटा के अनुसार आपको फैक्ट्स बताएंगे। जिससे हम और आप यह जान पाएंगे कि लॉन्ग हमारी हेल्थ को कैसे इफेक्ट करती है और इसके पीछे की साइंस क्या है।

आपने जरूर सुना होगा कि लॉन्ग में यूजेनोल पाया जाता है। लेकिन इसके अलावा भी इसमें बहुत कुछ होता है जिसके बारे में आप जानकर हैरान रह जाएंगे इसमें बहुत से न्यूट्रिशन का खजाना होता है। लौंग की चाय पीने से आप पूरा दिन ताजा महसूस करेंगे जिससे आपके डेली रूटीन में कोई रुकावट नहीं आ पाएगी। इससे आप सुबह-सुबह बहुत ही एनर्जेटिक महसूस करेंगे।

लेकिन आज हम सिर्फ और सिर्फ इस लॉन्ग की चाय के बेनिफिट्स नहीं जानेंगे बल्कि यह भी जानेंगे कि किसको इसे पीने से परहेज करना चाहिए या यह किस तरह किसी बीमारी का जनक हो सकता है।

लौंग से पाचन क्रिया अच्छी कैसे रहती है?

लौंग में यूजेनोल तेल बहुत अच्छी मात्रा में होता है। इससे हमारा पाचन सिस्टम हेल्दी रहता है। हमारे पाचन को अच्छा रखने के लिए कुछ एंजाइम्स जरूरी होते हैं। इस तेल से यह एंजाइम्स एक्टिव हो जाते हैं और जल्दी और बेहतर पाचन करने लगते हैं।

इसके अलावा मल त्यागने में सहायक है। इससे कब्ज की समस्या दूर होती है। अच्छा पाचन तंत्र हमें कंफर्ट लाइफ देता है और साथ ही साथ हमारी बाकी बीमारियों को भी खत्म कर सकता है। अच्छा पाचन होने का मतलब है कि आपकी बॉडी पूरी तरह भोजन को अब्जॉर्ब कर लेती है जिससे आपको के पूरे न्यूट्रिशन मिलेंगे।

2012 की एक स्टडी के अनुसार लोग में ऐसे गुण पाए जाते हैं जो की डेंजरस बैक्टीरिया को हमारे पेट से बाहर करते हैं। इन बैक्टीरिया के बाहर आने से सिर्फ हमारा पाचन तंत्र से ही अच्छा नहीं होता साथ ही साथ हमारा इम्यून सिस्टम बहुत स्वस्थ हो जाता है।

लीवर के लिए लौंग की चाय:

जब आप रोज सुबह लॉन्ग की चाय पीते हैं तो आप अपने लीवर को सुरक्षा देते हैं। लॉन्ग में यूजेनोल फ्लेवोनॉयड और हेपेटो प्रोटेक्टिव एजेंट होते हैं जो मिलकर आपके लीवर को हेल्दी बनाते हैं।

2021 की Study के हिसाब से लौंग की चाय रेगुलर पीने से लीवर स्ट्रेस का अन्य बीमारियां धीरे-धीरे खत्म हो जाते हैं और लीवर की काम करने की शक्ति बढ़ जाती है। 2019 की एक स्टडी से पता चला है कि लौंग में कुछ ऐसे योग होते हैं जो की लीवर की सूजन को बहुत तेजी से कम कर सकते हैं।

इसका मतलब यह नहीं है कि आप अपने लवर से संबंधित किसी भी बीमारी के लिए लॉन्ग की चाय को इलाज के रूप में इस्तेमाल करें या फिर इसको पीकर आप बेफिक्र हो जाए बल्कि यह सिर्फ आपके डेली रूटीन के लिए एक अच्छी डाइट का एक हिस्सा है। जिससे आप आने वाली बीमारियों से सुरक्षित रह सकते हैं।

और पढ़ें:

दूध वाली चाय के यह फायदे जानकर डॉक्टर भी हुएं दंग

Lipton Green Tea के क्या फायदे हैं इसके नुकसान भी होते हैं क्या?

हल्दी की चाय कैसे बनाएं और इसके क्या फायदे हैं?

लौंग की चाय सूजन को काम करती है:

लौंग की चाय एक रूटीन की तरह अगर सुबह-सुबह खाली पेट पी जाए तो यह आपके शरीर में सूजन को कम कर सकती है। इसमें मौजूद फ्लेवोनॉयड्स और कैमोरोल साथ ही साथ रैमटीन एक साथ मिलकर सूजन को कम करने में बहुत असरदार साबित हुए हैं।

2024 में हेलियन में पब्लिश एक स्टडी बताती है कि किस तरह फ्लेवोनॉयड्स हमारी बॉडी से सूजन को कम करता है।
2021 में आर्टिकल के अनुसार लॉन्ग में मौजूद beta caryophyllene पाचन तंत्र की सूजन को कम करने में मदद करता है।

लौंग में एंटीबैक्टीरियल गुण भी मौजूद होते हैं:

लौंग जो हम अपनी रसोई में एक आम से मसाले के रूप में इस्तेमाल करते हैं वह नेचरली खतरनाक बैक्टीरिया से लड़ने का एक हथियार है। यूजेनोल फ्लेवोनॉयड और टेनिन मिलकर है बैक्टीरिया के खिलाफ काम करते हैं और उनका रास्ता रोकते हैं जिससे कि बैक्टीरिया ज्यादा फेलते नहीं और अपनी तादाद बढ़ा भी नहीं पाते। एक स्टडी से यह पता चला है कि टेनिन बहुत ही शक्तिशाली होता है बैक्टीरिया को मारने के लिए।

शुगर लेवल कंट्रोल में रहता है:

लॉन्ग की चाय में जैसे कि हमने बताया बहुत से न्यूट्रिएंट मौजूद होते हैं जिनमें nigericin एक है। यह इंसुलिन और लोअर ब्लड शुगर में बहुत कारगर होती है। ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल में रखने के लिए इसे रोजाना पीना बहुत अच्छा हो सकता है।

लौंग की चाय पीकर कैंसर से बचें:

लौंग में मौजूद न्यूट्रिएंट्स कैंसर कोशिका को इस तरह प्रोग्राम करता है कि वह खुद को अपने आप ही खत्म कर लेती हैं। जिससे कि कैंसर फैलना रुक जाता है और उसका इलाज आसान हो जाता है। कैंसर कोशिकाएं धीरे-धीरे खत्म होने लगती है। इतना ही नहीं बल्कि एक और रिसर्च में यह पता चला है कि लॉन्ग की चाय पीने से आपका ट्यूमर भी धीरे-धीरे खत्म हो सकता है।

Oral health के लिए लॉन्ग की चाय कैसे अच्छी है:

लॉन्ग की चाय हमारे औरल हेल्थ में बहुत अच्छी मानी गई है इसके लिए कई स्टडी भी हुई हैं। यह हमारी सांसों की बदबू को खत्म करने के लिए बहुत अच्छा उपाय है। यही नहीं बल्कि हमारे दांतों में होने वाली कैविटीज़ बहुत आराम से खत्म की जा सकती है और दांतों से पीलेपन को भी दूर किया जा सकता है।
साथ ही यह मसूड़े में होने वाली सूजन और दर्द से राहत मिलती है।

इम्यून सिस्टम को हेल्दी रखने में मदद करती है:

लॉन्ग में बहुत अच्छी मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट्स होते हैं जो की इम्यून सिस्टम को बढ़ाते हैं।

इसमें मौजूद कुछ न्यूट्रिएंट्स जो की बाहरी बैक्टीरिया से हमारी हिफाजत करते हैं। खासतौर पर वायरल से। हवा में मौजूद वायरल इंफेक्शन से लड़ने के लिए हमें एक मजबूत इम्यून सिस्टम की जरूरत होती है। लॉन्ग में यह सारे गुण होते हैं।

सावधानियां:

कुछ लोगों को लौंग या फिर इसी तरह के मसाले जैसे जाएफल वगैरा से एलर्जी का मसला हो सकता है अगर ऐसा है तो आप इस चाय को बिल्कुल न पिएं।

लोगों को अल्सर, एसिड रिफ्लक्स या फिर ऐसी ही कोई बीमारी है तो उन्हें इस चाय को बिल्कुल अवॉइड करनी चाहिए क्योंकि इसमें मौजूद लौंग बहुत ही स्ट्रांग मसाला है जो आपकी प्रोब्लेम्स को बढ़ा सकता है।

ऐसे पेशेंट जिनको सर्जरी करानी हो वह दो हफ्ते पहले से ही इसका सेवन बिलकुल न करें क्योंकि लॉन्ग की चाय से खून पतला हो जाता है। जिससे सर्जरी के दौरान परेशानी हो सकती है या ज्यादा खून बह सकता है।

इसके अलावा अगर आपको कोई और बीमारी है तो किसी अच्छे डॉक्टर से पूछ कर ही इसको पिए ताकि आपको आगे चलकर किसी और परेशानी का सामना न करना पड़े।

Saniya Qureshi is a Health and Beauty writer, senior consultant and health educator with over 5 years of experience.

Leave a Reply