Santoor Sabun: फायदे नुकसान प्रभाव इस्तेमाल कैसे करें सामग्री Complete detail

Santoor Sabun: साबुन पुराने कॉस्मेटिक उत्पाद में से एक है जो व्यक्तिगत सफाई के लिए उपयोग किया जाता है साबुन के माध्यम से की गई सफाई सेटिस्फाइड परिणाम देने में मदद करती है क्योंकि साबुन में ऐसे केमिकल मिले होते हैं जो कीटाणु को नष्ट कर देते हैं।

Santoor sabun
Santoor Sabun

इस साबुन में चंदन और हल्दी मिलाई गई है चंदन और हल्दी दोनों त्वचा की देखभाल के लिए महत्वपूर्ण और परंपरागत सामग्री है इनके उपयोग से सौंदर्य बढ़ता है।

यह दोनों उत्पाद पौष्टिक गुणों से भरपूर है जो स्किन को मुलायम चिकना और स्वस्थ बनाए रखने में मदद करते हैं इनके नियमित उपयोग से त्वचा युवा बनी रहती है और त्वचा पर प्राकृतिक चमक आती है।

Table of Contents

परिचय: संतूर साबुन के बारे में।

संतूर साबुन, साबुन का एक नाम है जिसका इस्तेमाल त्वचा की देखभाल करने के लिए किया जाता है संतूर साबुन के कई विज्ञापन यह दावा करते हैं इसके इस्तेमाल से त्वचा सुंदर, निखरी व जवान हो जाएगी।

जबकि अगर अनुभव के अनुसार देखा जाए तो विज्ञापन में किया गया दावा पूरी तरह से सही नहीं है क्योंकि यह भी अन्य साबुन की तरह ही है जो त्वचा से गंदगी हटा कर उसे साफ रखने में उपयोगी है।

त्वचा की सुंदरता के लिए जॉनसन बेबी ऑयल कितना अच्छा है?

Santoor sabun किस brand का है।

यह आईटी प्रमुख विप्रो का,Wipro Consumer Care and Lighting (WCCL) उत्पाद है इस उत्पाद को दक्षिण में बहुत ज्यादा पसंद किया जाता है दक्षिण भारत में यह साबुन बड़ा ब्रांड बन गया है।

Santoor Sabun कब बना और इसकी मुख्य सामग्री क्या है?

Santoor Sabun 1985 में एक साधारण साबुन के रूप लॉन्च हुआ जैसे कोई भी आम साबुन होता है लेकिन बाद में विज्ञापन के जरिए इस साबुन को अन्य साबुन से अलग दर्शाया गया।

इस पोपुलर साबुन की मुख्य सामग्री हल्दी और चंदन है जो इसे नेचुरल और प्राकृतिक गुणों से युक्त बनाते है।

Santoor Sabun की सामग्री:

• सोडियम पाम कर्नेलेट।

• एक्वा, हाइड्रेटेड मैग्नीशियम।

• सोडियम पामेट।

• सोडियम कार्बोनेट।

• टाइटेनियम डाइऑक्साइड।

• चंदन का सत्त।

• मिश्रित टोकोट्रिएनोल्स।

• ओलेओ राल हल्दी।

• एटिड्रोनिक एसिड, टेट्रा सोडियम।

Santoor Sabun का क्या प्रभाव होता है?

Wipro के अनुसार संतूर साबुन चंदन और हल्दी के लाभकारी फायदों से भरपूर है यह त्वचा को नमी प्रदान करता है। और त्वचा को मुलायम बनाने में भी मदद करता है।

संतूर साबुन के अधिक उपयोग से त्वचा पर रूखापन आ सकता है क्योंकि यह त्वचा को ड्राई कर देता है।

क्या Santoor Sabun सुरक्षित है?

जैसा कि हमने ऊपर ही बताया है कि यह साबुन अन्य साबुन की तरह है इसके उपयोग से आपको कुछ फायदे मिलेंगे तो कुछ नुकसान भी देखने पड़ सकते हैं।

लेकिन नियमित घरेलू इस्तेमाल के लिए Santoor Sabun अन्य साबुन से बेहतर है क्योंकि इसमें हल्दी और चंदन है जो त्वचा को स्वस्थ और कोमल बनाने का काम करते हैं। इसलिए आप इसे रोजाना के उपयोग में सुरक्षित मान सकते हैं।

Santoor Sabun कैसे काम करता है?

यह त्वचा से धूल मिट्टी और गंदगी को हटाता है। इसके नियमित इस्तेमाल से स्किन पर किटाणु नहीं पनपते।

Santoor Sabun त्वचा को साफ करके प्राकृतिक चमक प्रदान करने में भी सहायक है यह त्वचा से बेकार कणों को नष्ट करने में भी कार्य करता है।

संतूर सबुन कैसे इस्तेमाल करे? – Santoor soap how to use in hindi

A woman showing Santoor Sabun effect
Santoor Sabun

इसके पैकेज पर लिखे निर्देशों के अनुसार यह साबुन प्रतिदिन दो बार उपयोग करें, तथा स्वच्छता के लिए इस साबुन से हाथों को भी धोते रहें।

साफ, दमकती त्वचा पाने के लिए संतूर का प्रयोग दिन में दो बार करें। साथ ही यह एंटी-बैक्टीरियल साबुन है, जिसे काले घेरे और मुंहासों को दूर करने के लिए चेहरे पर इसका इस्तेमाल करने की सलाह दी जाती है।

Note: किसी भी प्रोडक्ट को खरीदने से पहले उसकी Expiry date की जांच कर ले, क्योंकि Expire हुई चीज का इस्तेमाल करने से किसी भी तरह का लाभ तो नहीं मिलता, लेकिन नुकसान बहुत लंबे समय तक झेलने पड़ सकते हैं।

Santoor Sabun किस स्किन टाइप के लिए है।श?

संतूर त्वचा देखभाल साबुन सभी प्रकार की त्वचा (All skin type) के लिए सूटेबल है इसे किसी भी उम्र के लोग इस्तेमाल कर सकते हैं।

Santoor Sabun की क्या कीमत है?

यह अन्य साबुन की तुलना में कम कीमत पर उपलब्ध हो जाता है भारत में संतूर ₹10 की कीमत से लेकर 50 रुपए की कीमत तक मिल जाता है। यह किसी भी किराने की दुकान पर आसानी से उपलब्ध हो जाता है इसके अलावा आप इसे ऑनलाइन Amazon और फ्लिपकार्ट जैसी साइड से भी आसानी से खरीद सकते हैं।

Santoor Sabun को कहां उपयोग कर सकते हैं।

इस साबुन का उपयोग पूरे शरीर पर किया जा सकता है और इस ब्रांड के अनुसार यह साबुन चेहरे पर भी इस्तेमाल किया जा सकता है। जबकि चेहरे पर इसका इस्तेमाल करने से चेहरे की त्वचा का pH बैलेंस बिगड़ सकता है।

संतूर साबुन के फायदे – Santoor soap benefits in hindi

यह साबुन हल्दी और चंदन से युक्त उत्पाद है इसीलिए यह त्वचा के लिए लाभकारी भी होता है तो चलिए जानते हैं इसके क्या फायदे हो सकते हैं।

• त्वचा की एलर्जी खत्म होती है।

• इस साबुन के नियमित उपयोग से त्वचा पर किसी भी प्रकार की एलर्जी नहीं रहती और ना ही कोई एलर्जी पनपती है।

• ब्लैकेड और मुंहासे नहीं होते।

• क्योंकि इसमें हल्दी होती है जो त्वचा को निरोगी बनाने में कारगर है तो इसके इस्तेमाल से त्वचा पर पिंपल्स और ब्लैकइट्स की समस्या नहीं रहती।

• सभी प्रकार की त्वचा के लिए उपयोगी है।

• नेचुरल सामग्री।

• ताज की प्रदान करता है।

• सभी स्किन टाइप के लिए है।

• यह हर स्किन टाइप के लिए सूटेबल है इसे कोई भी इस्तेमाल कर सकता है।

• त्वचा को मुलायम रखता है।

• यह साबुन त्वचा को हार्ष नहीं करता। तथा मुलायम और चमकदार बनाने में भी मदद करता है।

संतूर साबुन के नुकसान – Santoor Saop side effects in hindi

संतूर साबुन पर लिखे निर्देशों के मुताबिक इसके किसी भी प्रकार के कोई नुकसान नहीं है हालांकि संतूर साबुन इस्तेमाल करने से त्वचा रूखी हो सकती है और यह साबुन त्वचा को खुरदुरा भी बना सकता है।

• संतूर साबुन के उपयोग से त्वचा के नेचुरल ऑयल को नुकसान पहुंचता है इसके नियमित यूज त्वचा का पीएच बिगड़ जाता है।

• यह साबुन स्किन को ड्राई बनाता है।

• संतूर साबुन के उपयोग से स्किन की प्राकृतिक नमी खत्म हो जाती है।

• क्या संतूर साबुन से काले धब्बे दूर होते हैं?

• संतूर सॉप त्वचा को क्लीन कर के हाइजीन रखने में मददगार है इसकी सहायता से स्किन के दाग धब्बे कम हो जाते हैं।

क्या संतूर साबुन से त्वचा काली हो जाती है?

संतूर साबुन का उपयोग करने से स्किन काली नहीं पड़ती स्किन का कलर वैसा ही रहता है जैसा नॉरमल स्किन कलर होता है।

क्या संतूर साबुन skin पर harsh है?

संतूर साबुन बहुत ही कम कीमत पर उपलब्ध है इसके उपयोग से स्किन ड्राई हो जाती है और कई बार स्किन पर खुजली होने की समस्या भी हो सकती हैं तो अगर कहा जाए कि संतूर साबुन से स्किन खुरदरी होती है तो सही है कुछ लोगों को इस तरह की समस्या हो सकती है।

क्या संतूर साबुन पिंपल्स के लिए अच्छा है?

संतूर साबुन के ब्रांड के अनुसार यह साबुन स्किन की सभी समस्याओं को हटाता है पिंपल खत्म करता है ब्लैकइट्स और एक्ने की समस्या भी नहीं होने देता।

इसके अलावा यह ब्रांड यह भी दावा करता है कि इस साबुन के इस्तेमाल से स्किन सॉफ्ट क्लियर बनती है और स्किन पर निखार व ताजगी आती है।

जबकि संतूर साबुन नॉर्मल किसी भी साबुन की तरह ही परिणाम देता है यह त्वचा साफ करके ताजगी प्रदान करता है और क्योंकि इसमें चंदन हल्दी की अच्छाइयां है तो कुछ हल्का हद तक यह पिंपल की समस्या को भी कम करता है।

संतूर का सबसे अच्छा साबुन कौन सा है?

Santoor Sabun कई अलग-अलग ingredients को मिलाकर तैयार किया जाता है जिसके अलग-अलग प्रभाव भी हैं और अलग-अलग समस्याओं के लिए इनका उपयोग किया जा सकता है।

• यह साबुन अलग-अलग प्रकार में उपलब्ध है जैसे–

• संतूर प्योर ग्लो ग्लिसरीन साबुन।

• संतूर सैंडल और बादाम साबुन।

• संतूर सैंडल और हल्दी साबुन।

• संतूर गोल्ड साबुन।

• संतूर एलो फ्रेश साबुन।

संतूर साबुन का pH मान कितना होता है?

इसका पीएच मान लगभग 10 है जो skin के लिए हानिकारक हो सकता है क्योंकि skin का पीएच मान 4. 5 के लगभग होता है इसलिए हेल्दी स्किन के लिए त्वचा के पीएच मान के मुताबिक प्रोडक्ट का चयन करें।

क्या Santoor साबुन को चेहरे पर लगाना चाहिए?

  • संतूर साबुन के विज्ञापन में यह दर्शाया जाता है कि इसके उपयोग से स्किन पर चमक बढ़ती है और किन यंग रहती है।
  • जबकि संतूर साबुन के उपयोग से चेहरे का ग्लो धीरे धीरे कम हो जाता है क्योंकि इसमें नेचुरल चीजों को मिलाने के साथ-सथ केमिकल भी डाले जाते हैं जो स्किन को नुकसान करते हैं।
  • इस साबुन को चेहरे पर लगाने से चेहरे का पीएच मान भी गड़बड़ हो जाता है जिस कारण त्वचा पर तरह तरह की समस्याएं पैदा होने लगती हैं। इसलिए चेहरे पर संतूर साबुन का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए।

क्या ” संतूर ” साबुन से नहाने से पुरुषों में भी निखार आता है?

इसका उपयोग करने स्किन साफ हो जाती है यह बॉडी की त्वचा को सफाई और ताजगी प्रदान करता है लेकिन इसके उपयोग से पुरुषों की त्वचा पर बहुत ज्यादा निखार आएगा ऐसा कोई परिणाम नहीं मिलता।

क्या Santoor साबुन से नहाने से महिलाएं जवान दिखने लगती हैं?

संतूर साबुन से नहाने से महिलाओं की त्वचा जवान दिखती है ऐसा केवल विज्ञापनों में दर्शाया जाता है इसमें किसी भी प्रकार की सच्चाई नहीं है यह उसी तरह से प्रभावी होता है जिस तरह से कोई भी अन्य साबुन होगा।

Sabun क्या है?

साबुन विभिन्न वसा अम्लों के सोडियम लवणों का एक मिश्रण है यह वसा सपोनिफिकेशन या हाइड्रो लिसिस नामक प्रक्रिया द्वारा बनाया जाता है।

साबुन क्षारीय उत्पाद है जिसमें पीएच लेवल ज्यादा होता है क्योंकि साबुन एक बार त्वचा को साफ करके त्वचा का अम्लीय आवरण सामान्य बनाता है जिससे त्वचा का ph स्तर दोबारा सामान्य स्थिति में वापस आ सके।

साबुन के दुष्प्रभाव:

आज के समय में मार्केट में अलग-अलग तरह के साबुन उपलब्ध हैं जो विज्ञापन के द्वारा प्रचार करके काफी प्रसिद्ध भी है।

लेकिन फिर भी प्रसिद्धि मिलने का मतलब यह नहीं है कि कोई साबुन बिल्कुल सही है उसका कोई नुकसान नहीं हो सकता साबुन के उपयोग से कई प्रकार के नुकसान देखे जा सकते हैं जैसे–

• त्वचा पर खुजली होना।

• शुष्क स्किन।

• त्वचा का पीएच मान बिगड़ जाता है।

साबुन के फायदे:

  • साबुन त्वचा को बैक्टीरिया से बचाता है।
  • वायरस से सुरक्षित रखता है।
  • त्वचा की गंदगी हट आता।
  • ताजगी देता है।

साबुन के उपयोग क्या हैं?

  • गंदगी हट आता है।
  • शरीर से पसीने की बदबू खत्म करता है।
  • त्वचा को फ्रेश महसूस कराने में मदद करता है।
  • त्वचा की चमक बढ़ाता है।

चेहरे को साबुन से क्या नुकसान है और चेहरे को धोने के लिये क्या इस्तेमाल करना चाहिए?

साबुन में बहुत से ऐसे केमिकल मिलाएं जाते है जिससे चेहरे का पीएच मान बिगड़ जाता है तथा चेहरे का ग्लो धीरे-धीरे खत्म हो जाता है इसीलिए चेहरे पर साबुन का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए।

चेहरा धोने के लिए किसी नेचुरल फेस वाश का इस्तेमाल करें या घरेलू नुस्खे के उपयोग से भी आप रोज चेहरा धो सकते हैं घरेलू चीजों से चेहरा धोने से चेहरे पर चमक आती है और कोई नुकसान भी नहीं होता।

Saniya Qureshi is a Health and Beauty writer, senior consultant and health educator with over 5 years of experience.

Leave a Reply