HIV Vaccine Latest News 2024: बन गई है दवाई अब होगा HIV का पूरा इलाज

Hiv vaccine latest news 2024 in hindi : HIV के बारे में नई latest न्यूज़ सामने आई है जो HIV positive रोगियों के लिए एक अच्छी खबर है क्योंकि इसमें अमेरिका द्वारा एचआईवी के लिए बनाई जा रही दवाई के पहले ट्रायल की सफलता के बाद अब दूसरा ट्रायल करने की भी मंजूरी भी मिल गई है,

Hiv vaccine latest news 2024: बन गई है दवाई अब होगा HIV का पूरा इलाज

अमेरिकन साइंटिस्ट (जो इस एचआईवी दवाई पर काम कर रहे हैं) का कहना है कि यह दवाई एचआईवी रोगियों को पूरी तरह से ठीक कर सकती है और ली गई थेरेपी के बाद मरीज दोबारा से एचआईवी से इन् infected नहीं होगें, और ना ही उसकी वजह से कोई दूसरा एचआईवी बीमारी से ग्रसित हो सकता है यानी पूरी तरह से एचआईवी को ठीक करने के लिए यह दवाई काम करेगी और एक प्रभावी रिजल्ट देगी।

तो यह भी समझ लेते हैं यह दवाई क्या है अमेरिका में किस तरह से इसके trial किए गए और भविष्य में कौन सी संभावनाएं बताई जा रही हैं किस तरह से मरीज हो HIV से छुटकारा पा सकेंगे।

अमेरिकन जिन टेक्नोलॉजी क्या कहते हैं: इनका कहना है कि चरण एक क्लीनिकल परीक्षण पूरा हो चुका है और जो पहले ट्रायल हुआ है उसे उसकी अंतिम रिपोर्ट एफडीए को सौंप दी गई है।

और अब हम चरण दो के लिए तैयारी कर रहे हैं इस बार किन लोगों पर टेस्ट किया जाना है उनके बारे में रिसर्च कर रहे हैं क्योंकि पहले ट्रायल के लिए हम बहुत उत्सुक है और हमारे सहभागी भी उत्साहजनक दिख रहे हैं हमारी पहली प्रभावशाली सफलता के बाद दूसरे ट्रायल को पूरे प्रोटोकॉल के साथ बिना रुकावट के लेकर आगे बढ़ रहे हैं।

नए प्रोटोकॉल को मंजूरी मिलते ही 2 चरण के लिए क्लीनिकल परीक्षण शुरू हो जाएगा एफडीए मंजूरी मिलना बहुत जरूरी है हमें उम्मीद है कि 2024 के अंत तक और 2025 के शुरू में मंजूरी मिल जाएगी।

Dr Biswas good health capsule | डॉ बिस्वास गुड हेल्थ कैप्सूल के फायदे नुकसान

2020 में HIV के पहले ट्रायल के लिए एफडीए क्लिनिकल परीक्षण की अनुमति:

पहले चरण पर काफी समय से काम चल रहा था और उसके लिए कई तरह के परीक्षण पहले भी किया जा चुके थे लेकिन मानव परीक्षण नहीं किया गया था उसके लिए एफडीए की मंजूरी चाहिए थी हमारी जो दवाई है उसका नाम है AGT103-T, तो 2024 में आखिरकार चरण एक के परीक्षण के लिए अनुमति दी गई जिसमें साइंटिस्ट पांच इंसानों पर परीक्षण कर सकते थे चरण 1 परीक्षण को चरण 1 मानव परीक्षण के लिए मंजूरी दी गई जिसके तहत साइंटिस्ट इंसानों पर टेस्ट कर सकते थे।

उसके बाद अमेरिकन जीन ने अपना पहला परीक्षण आधिकारिक तौर पर शुरू कर दिया और प्रशिक्षण में और इसके लिए प्रतिभागियों की तलाश भी शुरू हो गई थी।

अप्रैल 2021

2021 में जिन पर टेस्ट किया जाना था उनके नामांकन होने के बाद अमेरिकन जीन ने AGT103-T का निर्माण किया। और फिर सुरक्षात्मक रूप से एक परीक्षण पैनल तैयार किया जिसके तहत पहला परीक्षण शुरू किया जाना था।

नवंबर 2021

उसके बाद 2021 के नवंबर में तीन HIV positive रोगियों पर इस दवाई का परीक्षण किया गया जिसमें नतीजे सकारात्मक आए। DSMB ने इस सफलता के बाद अपने कार्यक्रम को तेजी से बढ़ाया, और इसके लिए साइंटिस्ट के साथ एक बैठक रखी जिसमें मतदान कराए गए और सर्वसम्मति से चौथे वह पांचवें मरीज पर भी टेस्ट किया गया।

फरवरी 2022

उसके बाद फरवरी 2022 में AGT103 -T जीन और सेल थेरेपी भी प्रतिभागियों पर शुरू की गई जिससे एक प्रभावी और सकारात्मक उत्तर प्राप्त हुआ इसके बाद अब चरण 2 का टेस्ट करने के लिए मंजूरी चाहिए।

चरण 2 स्वीकृत

चरण 2 की की अनुमति के लिए अमेरिकन जीन बहुत ज्यादा उत्सुक हैं उन्हें भरोसा है कि अगर दूसरे स्टेज के टेस्ट के लिए उन्हें मंजूरी दी गई और यह टेस्ट भी सफल रहा तो जीन और कोशिका उपचारों को सीमित लाइसेंस मिल सकता है।

चरण 2 पूरा हुआ

इसका मतलब यह है कि अगर चरण 2 का अध्ययन हुआ और वह सफल रहा उसके बाद उन्हें एक क्षमता मिल जाएगी। जिसके चलते वह सीमित लाइसेंस के साथ HIV infected रोगियों को एक सही दिशा में इलाज के लिए इस दवाई की अनुमति दे पाएंगे और रोगियों को यह दवाई एक उपचार की तरह दे सकेंगे।

लेकिन यह सब होगा अगर ट्रायल एफडीए द्वारा पास कर लिया जाता है वह इसके पास करने के लिए विभिन्न बातों पर गौर करेंगे, जैसे की कितनी सुरक्षा दिखाई गई है इसकी प्रभावशालिका क्या है और कहीं मरीज को इससे कोई प्रतिकूल प्रभाव तो नहीं होगा। उसके बाद ही चरण 2 सफल हो सकेगा, अभी मंजूरी के लिए प्रतीक्षा की जा रही है।

Saniya Qureshi is a Health and Beauty writer, senior consultant and health educator with over 5 years of experience.

Leave a Reply