Diabetes होने पर Patient का शुगर कितना रहना चाहिए? (डॉक्टर बता रहे हैं: कैसे पता करें?)

जिन लोगों को डायबिटीज हो जाती है उनका एक सवाल होता है कि उनका शुगर लेवल कितना रहना चाहिए? जिससे वह एक स्वस्थ जिंदगी जी सके व किस तरह से वह इसे पता कर सकते हैं।

diabetes patient ka sugar level kitna hona chahiye
diabetes patient ka sugar level kitna hona chahiye

ज्यादातर लोग या तो ग्लूकोमीटर घर पर रखते हैं उससे अपनी जांच करते हैं या फिर खाना खाने के पहले या एक-दो घंटे बाद डॉक्टर के पास जाकर अपनी जांच करा लेते हैं। और इसके अकॉर्डिंग वह यह तय कर पाते हैं कि उनकी शुगर नॉर्मल आ रही है या नहीं।

लेकिन क्या आप जानते हैं यह जो टेस्ट डायबिटीज के पेशेंट खाना खाने के बाद करते हैं तो इसमें सिर्फ उसे निर्धारित समय का ही शुगर लेवल पता चलता है जिस वक्त आप जांच करते हैं बाकी पूरे दिन आपके शरीर में क्या उतार चढ़ाव आए हैं और आपका शुगर लेवल कितना है इसकी जांच नहीं हो पाती।

और पढ़ें:

हमें चीनी क्यों नहीं खानी चाहिए? और चीनी की जगह भोजन में मिठास लाने के लिए किन चीजों का उपयोग किया जा सकता है?

5 अविश्वसनीय Orange Food जो Blood Sugar को कम करते हैं?

Diabetes होने पर Patient का शुगर कितना रहना चाहिए?

अगर आपको जानना है कि आपका शुगर लेवल वाकई में नॉर्मल है या नहीं, तो आपको HBA1C टेस्ट कराना चाहिए।

यह टेस्ट आपके पिछले 3 महीने का शुगर लेवल कितना चला आ रहा है यानी पिछले 3 महीने से आपके शरीर में average शुगर लेवल कितना बना हुआ है इसकी पूरी रिपोर्ट दे देता है।

तो उन्हें यह टेस्ट कराना चाहिए जो लोग वाकई में यह जानना चाहते हैं कि उनका शुगर लेवल नॉर्मल है या नहीं, इससे आपको पिछले 3 महीने का एवरेज ब्लड शुगर कितना चल रहा है यह जानकारी मिल जाती है।

HBA1C अगर 5.7 से नीचे है तो इसका मतलब है कि आपका शुगर लेवल कंट्रोल में है और सामान्य बना हुआ है अगर इसका लेवल 5.7 से लेकर 6.4 के बीच में है तो इसे बोला जाएगा pre diabetic condition यानी अभी डायबिटीज हुई नहीं है लेकिन भविष्य में आपको डायबिटीज होने के चांसेस हैं।

लेकिन अगर HBA1C 6.5 या उससे ऊपर हो जाए तो वहां पर हम बोलेंगे कि उस व्यक्ति को Diabetes हो गया है और वह एक डायबिटीज पेशेंट है उसे अपने शुगर लेवल को कंट्रोल में करने के लिए उपाय करने जरूरी है।

ऐसे में जो लोग पहले से Diabetes की दवाई खा रहे हैं जिनका पहले से शुगर लेवल बढ़ा हुआ है उनका HBA1C टेस्ट अगर 7 से नीचे रहता है तो डॉक्टर इसे सही मानते हैं और ऐसे मरीज को ठीक करना आसान होता है उनका शुगर लेवल कंट्रोल में करना बहुत मुश्किल नहीं होता।

लेकिन अगर डायबिटीज पेशेंट का Hba1c Test 7 से ऊपर चला जाए तब यहां पर चिंता का विषय हो जाता है।

जिनका Hba1c टेस्ट लेवल 7 या 7 से नीचे आया है तो उन्हें हर 3 महीने में यह टेस्ट कराते रहना चाहिए। इससे उन्हें सही information मिलेगी कि उनके शरीर में शुगर लेवल कितना बढ़ा है और कितना कंट्रोल हुआ है।

तो दोस्तों यह थी हमारी तरफ से आपके लिए एक Informative जानकारी देने की कोशिश। अगर आपको हमारी पोस्ट अच्छी लगी हो तो इसे शेयर करें और अगर आपका इससे रिलेटेड कोई भी प्रश्न है तो आप कमेंट करके पूछ सकते हैं।

Saniya Qureshi is a Health and Beauty writer, senior consultant and health educator with over 5 years of experience.

Leave a Reply