Chote Bachcho Ka Weight Kaise Kam Kare? (21 दिनों में)

Chote Bachcho Ka Weight Kaise Kam Kare?
Chote Bachcho Ka Weight Kaise Kam Kare?

छोटे बच्चे जो की 2 से 10 साल की उम्र के हैं अगर उनका वजन जरूरत से ज्यादा हो जाए तो उनके विकास पर गलत असर पड़ता है और शरीर में तरह-तरह की समस्याएं भी हो सकती हैं ऐसा माता-पिता की गलती के कारण होता है क्योंकि,

वह अपने बच्चों को यह नहीं सीखाते की उन्हें क्या खाना है और कैसी लाइफस्टाइल अपनानी है जिसके कारण बच्चे बाहर की पैकेट वाली चीजें व फास्ट फूड खाते हैं और घर का खाना नहीं खाते,

दूसरा बच्चे आजकल Physically नहीं खेलते मोबाइल में बैठे रहते हैं इस कारण उनका वजन बढ़ता जाता है ऐसे में उन्हें तरह-तरह की दिक्कतें भी होती हैं जैसे सर में दर्द, टेंशन, पेट दर्द, कब्ज, उल्टी, दस्त इत्यादि।

बहुत जरूरी है की माता-पिता अपने बच्चों के वजन पर ध्यान दें और अगर उनका वजन ज्यादा बढ़ रहा है तब या फिर वजन जरूरत से ज्यादा कम है दोनों ही मामलों में बच्चों की डाइट और उनकी Physical activities में बदलाव की जरूरत होती है बस कुछ बदलाव करके बच्चों को फिर से उनके सही वजन पर लाया जा सकता है।

अब आप पढ़ेंगे की 10 साल से छोटे बच्चों का वजन कम करने के लिए कौन से महत्वपूर्ण कदम उठाने चाहिए जिससे उनकी लाइफ स्टाइल को हेल्दी बनाया जा सके और उनके Weight को संतुलित किया जा सके:

छोटे बच्चों का वजन कैसे कम करें? (Chote Bachcho Ka Weight Kaise Kam Kare?)

स्वस्थ आहार:

आजकल की लाइफस्टाइल ऐसी है कि बच्चों को हेल्दी खानपान नहीं मिलता बल्कि पिज़्ज़ा बर्गर चाऊमीन और बाहर की कई सारी चीज बच्चों को खिलाई जाती हैं जिसके कारण उन्हें वह चीज टेस्टी लगने लगती है और वह इस पर निर्भर हो जाते हैं।

अब बच्चे खुद ही जिद करने लगते हैं कि वह घर का खाना नहीं खाएंगे बाहर की चीज खाएंगे ऐसे में उनका वजन बढ़ता जाता है लेकिन उनको न्यूट्रिशंस नहीं मिलते

यहां पर माता-पिता का बहुत महत्वपूर्ण रोल है कि वह अपने बच्चों को सही डाइट दे ऐसा शुरुआत से ही करें अपने बच्चों को ज्यादा से ज्यादा फल सब्जियां अनाज दूध दही आदि का सेवन करना चाहिए, इन चीजों को खाने से उनका वजन संतुलित बना रहेगा और उन्हें अच्छी मात्रा में न्यूट्रिशंस मिलेंगे बच्चे बीमार नहीं पड़ेंगे।

अच्छी आदतें:

अच्छी आदतों में केवल स्वस्थ आहार ही नहीं आता बल्कि खेलकूद भी शामिल है आज के वक्त में बच्चे बाहर जाकर नहीं खेलते अपने दोस्तों के साथ क्रिकेट साइकिलिंग यह पार्क में तरह-तरह के खेल खेलना इस तरह की एक्टिविटीज आजकल बच्चे नहीं करती और इसी के कारण उनका Weight बढ़ जाता है।

इसलिए जरूरी है कि आप अपने बच्चों को बाहर खेलने के लिए इनकरेज करें इसके लिए आप अपने बच्चों को ज्यादा से ज्यादा शारीरिक गतिविधियों वाला खेल खिलाएं आप खुद भी अपने बच्चों के साथ खेल सकते हैं या दोस्तों के साथ बच्चों को खेलने के लिए इनकरेज कर सकते हैं।

महिलाओं को Protein Supplement क्यों लेना चाहिए?

मोबाइल से दूरी:

बच्चों का वजन बढ़ाने या फिर कम रहने का एक कारण मोबाइल भी है माता-पिता अपनी सहूलियत के लिए बच्चों को मोबाइल पकड़ा देते हैं और खुद अपने काम करते रहते हैं।

लेकिन यह बच्चों के लिए बहुत खतरनाक है क्योंकि मोबाइल में गेम खेलने के कारण ना तो वह बाहर जाकर खेलते हैं ना ही ज्यादा चलते फिरते हैं बल्कि एक जगह बैठे रहते हैं और इसी वजह से उनका weight बढ़ता रहता है वजन बढ़ने के साथ उनकी आंखों पर भी मोबाइल की रोशनी के के कारण बुरा असर होता है।

नियमित व्यायाम:

क्योंकि आजकल बच्चे बाहर जाकर नहीं खेलते ज्यादा physical activities नहीं करते। तो ऐसे में माता-पिता को चाहिए कि वह अपने बच्चों को घर पर नियमित रूप से कुछ देर के लिए एक्सरसाइज करने के लिए कहें उन्हें सिखाएं की रोजाना आधे घंटे के लिए ऐसे एक्सरसाइज करनी है।

इससे बच्चों के शारीरिक और मानसिक विकास पर बहुत ज्यादा फायदा देखने को मिलेगा बच्चों का वजन भी नियंत्रण में रहेगा और उनकी हाइट अच्छे से बढ़ेगी बीमारियां होने का खतरा बहुत कम हो जाएगा।

हाइड्रेशन:

शरीर में पानी की कमी भी बच्चों के मोटापे का कारण हो सकती है क्योंकि बच्चा जब खाना खाता है तो वह सही से पच नहीं पता और उसके शरीर में चर्बी है इकट्ठा होने लगती है।

लेकिन अगर आप उसे सही मात्रा में पानी पिलाएंगे तो उसका वजन कंट्रोल में रहेगा अगर बच्चे का वजन ज्यादा है तो उसे हल्का गर्म पानी दें जिससे वजन कम होना शुरू होगा।

स्वस्थ मात्रा में नींद:

नींद एक बहुत जरूरी फैक्टर है इसे नजरअंदाज नहीं करना चाहिए अगर बच्चे सही नींद नहीं लेंगे तो उनके वजन बढ़ने के Chances ज्यादा रहते हैं इसलिए अपने बच्चों को 6 से 8 घंटे की पूरी नींद लेने के लिए प्रेरित करें।

संतुलित खान-पान:

आप अपने बच्चों को घर का खाना तो खिला सकते हैं लेकिन उन्हें सीखाना भी जरूरी है कि वह बाहर का ना खाएं या फिर सीमित मात्रा में खाएं। रोजाना तो बिल्कुल नहीं खाना है हफ्ते में या महीने में एक बार खा सकते हैं इस तरह से उन्हें Guide करें।

ज्यादा ना खिलाए:

बच्चों को ज्यादा खिलाने की वजह से भी उनका वजन बढ़ जाता है इसलिए उन्हें ज्यादा ना खिलाए एक Diet Plan तैयार करें और उनके अनुसार उन्हें खाने को दे क्योंकि ज्यादा खाने से शारीरिक और मानसिक विकास पर गलत प्रभाव पड़ सकता है।

तो अगर आपके बच्चे का वजन जरूरत से ज्यादा है आप इन सभी Tips को अपनाकर उनके वजन को फिर से कंट्रोल कर सकते हैं और अपने बच्चों को एक healthy lifestyle जीने के लिए प्रेषित कर सकते हैं इसके अलावा पीडियाट्रिशियन से भी आप सलाह ले सकते हैं।

Saniya Qureshi is a Health and Beauty writer, senior consultant and health educator with over 5 years of experience.

Leave a Reply