चटनी या सब्जी बनाकर खाए जाने वाले फूल: लें खास मजा! रंगीन और स्वादिष्ट अनुभव एक साथ

शानदार फूलों की दुनिया: चटनी और सब्जीयों का स्वादिष्ट सफर

क्या आपने कभी चटनी या सब्जी के तौर पर फूलों का मज़ा लिया है? इस पोस्ट में, हम खास तौर से फूलों का इस्तेमाल करके तैयार की गई चटनियों और सब्जियों के स्वास्थ्य लाभ और रेसिपीज़ पर बात करेंगे। स्वाद से भरपूर और सेहत का खजाना, यहां आप जानेंगे फूलों का नया स्वाद।

चटनी या सब्जी बनाकर खाए जाने वाले फूल‌

चटनी या सब्जी बनाकर खाए जाने वाले फूल
चटनी या सब्जी बनाकर खाए जाने वाले फूल

शायद 90% लोगों को नहीं पता होगा कि कई तरह के फूल हम अपनी रोजमर्रा की जिंदगी में खाते हैं और वह हमारे स्वास्थ्य के लिए भी बहुत फायदेमंद माने जाते हैं, जिसमें एक गोभी का फूल भी है। जिसे आमतौर पर हमारे रसोईघरों में उपयोग किया जाता है इसके अलावा ब्रोकली, गेंदा और गुलाब भी रोजमर्रा व्यंजनों में उपयोग किए जाते हैं।

गोभी, ककड़ी, गेंदा, ब्रोकली, गेहूं के जवार के फूल और लौकी के फूल का इस्तेमाल भारतीय रसोई घरों में चटनी और सब्जी के तौर पर पुराने समय से ही किया जाता है। इन को इस्तेमाल करके चटनी और अलग-अलग तरह की सब्जी बनाई जाती हैं जो खाने में बहुत स्वादिष्ट और स्वास्थ्य के लिए बेहद लाभदायक होती हैं।

फूलों का चटनी में उपयोग:

गेंदा और ककड़ी के फूल का इस्तेमाल चटनी बनाने के लिए किया जाता है इसकी चटनी भारतीय परंपरा के अनुसार बनाई जाती है और विशेष रूप से स्नैक्स के लिए सर्व की जाती है ज्यादातर लोग ककड़ी और गेंदे के फूलों की चटनी रोटी या पराठे के साथ खाना पसंद करते हैं।

फूलों से बनाई गई चटनी न केवल स्वादिष्ट होती हैं बल्कि इनमें विभिन्न तरह के विटामिन और मिनरल्स भी भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं इसीलिए चटनी से सेहत के लिए कई तरह के अच्छे प्रभाव मिलते हैं।

इसे भी पढ़ें: Mix vegetable juice ke fayde जानकर आप रह जाएंगे दंग और जूस को बनाएंगे अपनी डाइट का हिस्सा।

फूलों का सब्जी के रूप में उपयोग

फूल गोभी और ब्रोकली बहुत ही सामान्य तौर पर भारतीय घरों में सब्जी के तौर पर खाए जाने वाले फूल हैं इसके अलावा जवार के फूल की सब्जी भी बनाई जाती है इन्हें अलग-अलग तरीके से अपने स्वाद के अनुसार सभी लोग व्यंजनों में उपयोग करते हैं। कुछ लोग सूखी सब्जी बनाते हैं तो कुछ इनका इस्तेमाल फास्ट फूड बनाने के लिए भी करते हैं।

फूलों का इस्तेमाल करके बनाई गई सब्जी सेहत को कई तरह के लाभ प्रदान करती हैं क्योंकि फूलों में एंटीऑक्सीडेंट और एंटी इन्फ्लेमेटरी गुणों के साथ कई तरह के पोषक तत्व भी मौजूद होते हैं जो सेहत को सकारात्मक रूप से बढ़ावा देते हैं और बीमारियां होने से सुरक्षा प्रदान करते हैं।

फूलों का गुलकंद के रूप में उपयोग:

केवल चटनी और सब्जी के रूप में ही नहीं बल्कि फूलों को स्वास्थ्य के लिए अन्य तरह से भी इस्तेमाल किया जाता है जिसमें एक तरीका गुलकंद भी है।

आपने भी गुलकंद खाया ही होगा, गुलाब का गुलकंद जो की ज्यादातर मीठा पान बनाने के लिए उपयोग किया जाता है इसके अलावा भी हकीम गुलकंद को स्वास्थ्य के लिए अच्छा बताते हैं और कई तरह के रोगों में इसका इस्तेमाल करने की सलाह देते हैं।

बिना किसी प्रक्रिया के भी फूलों को खाया जा सकता है?

ऐसा नहीं है कि फूलों का उपयोग सब्जी बनाने चटनी और गुलकंद के लिए ही किया जाता है इनमें मौजूद लाभकारी गुणों के कारण इन्हें बिना किसी चीज में डाले भी केवल फूलों को भी खाया जाता है।

जैसे गुलाब को सभी लोग आमतौर पर बिना दूसरी चीजों में ढालें ही खा लेते हैं सिर्फ गुलाब का फूल लेकर उसे साफ करके धोकर खाते हैं क्योंकि गुलाब बेहद अच्छी सेहत प्रदान करने में मदद करता है यह स्किन के लिए तो बेहतरीन होता ही है साथ ही अन्य अंगों को भी लाभ प्रदान करता है।

फूलों का स्वास्थ्यलाभ:

फूलों के स्वास्थ्य लाभ की बात करें तो इनके इतने ज्यादा फायदे होते हैं जिन्हें गिन पाना मुश्किल है क्योंकि इनमें फाइबर एंटीऑक्सीडेंट विटामिन मिनरल्स अच्छी मात्रा में पाए जाते हैं तो इनका सेवन नियमित रूप से करने पर शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य में सुधार आता है।

ब्रोकली और ककड़ी को तो खाने के लिए बहुत ज्यादा रिकमेंड किया जाता है अगर आपके शरीर में डिहाइड्रेशन की प्रॉब्लम है पानी की कमी है तो ब्रोकली आपके लिए बहुत अच्छी है और त्वचा से संबंधित समस्याओं से छुटकारा पाने में ब्रोकली सबसे ज्यादा असरदार मानी जाती है।

गेंदे का फूल तो हमारे भारतीय संस्कृति में सबसे ज्यादा उपयोग किया जाता है क्योंकि इसे पूजा में भी इस्तेमाल किया जाता है और शादी समारोह में सजावट के लिए भी उपयोग में लाया जाता है।

लेकिन क्या आप जानते हैं की गेंदे के फूल की चटनी और सब्जी विटामिन सी, फाइबर, पोलिटिक एसिड से भरपूर होती है यह सेहत के लिए बहुत लाभकारी मानी जाती है जिन लोगों को लीवर और पेट संबंधित समस्याएं होती हैं उनके लिए डॉक्टर भी इसे रिकमेंड करते हैं।

जवार के फूलों और लौकी के फूलों का इस्तेमाल चटकदार रंग के व्यंजनों को बनाने के लिए किया जाता है जो देखने में तो अच्छे लगते ही है। साथ ही खाने में भी स्वादिष्ट और लाभकारी होते हैं इन्हें विशेष रूप से सलाद सूप बनाने और सैंडविच आदि तैयार करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है।

तो दोस्तों हमने आपको इस ब्लॉक पोस्ट में यह बताने का प्रयास किया है कि फूलों को चटनी और सब्जी के तौर पर अपनी रोज की दिनचर्या में शामिल किया जा सकता है और यह बहुत ज्यादा स्वास्थ्यवर्धक हैं तो इनका उपयोग आपकी सेहत के लिए अच्छा साबित होगा साथ ही इनसे नए स्वाद का आनंद भी ले सकते हैं।

Saniya Qureshi is a Health and Beauty writer, senior consultant and health educator with over 5 years of experience.

Leave a Reply