Agnus castus 30 सेक्स समस्याओं का समाधान (महिलाओं और पुरुष लिए)

Agnus castus 30 महिलाओं और पुरुष दोनों के लिए उपयोग की जाने वाली औषधि है इसका इस्तेमाल संतान न होने में समस्याएं के लिए किया जाता है यह महिलाओं में प्रीमेनस्ट्रुअल सिंड्रोम, मासिक समस्याओं के लिए अच्छी दवा है।

और पुरुषों में यौन समस्याओं को खत्म करने में मदद करती है यह एक होम्योपैथिक दवा है जिसे उच्च ताकत के लिए तैयार किया गया है।

होम्योपैथी औषधि के रूप में पहचान होने के बावजूद, सुरक्षित तौर पर इसे डॉक्टर की सलाह और परामर्श के साथ ही लेना सही माना गया है।

Agnus Castus 30 क्या है और यह किस प्रकार की होम्योपैथिक दवा है?

Couples happy with agnus castus 30
agnus castus 30 in hindi

Agnus Castus 30 एक होम्योपैथिक औषधि है जो प्रमुख रूप से हारमोंस संतुलन और महिला व पुरुषों में मनोबल को सुधारने के लिए उपयोग में लाई जाती है जिसका नाम “Chaste Tree” से लिया गया है।

इसे पुराने समय से ही महिलाओं पुरुषों की यौन समस्याओं को सुधारने के लिए इस्तेमाल में लाया जाता है। हालांकि प्राचीनतम सबूत के हिसाब से यह विशेष कर महिलाओं की मासिक धर्म से संबंधित समस्याओं और स्त्री रोगों के लिए सहायक होता है लेकिन होम्योपैथिक चिकित्सा इसे पुरुषों के लिए भी लाभकारी बताते हैं।

इसके क्या उद्देश्य हैं?

हार्मोनल बैलेंस: Agnus Castus 30 को मुख्य रूप से हारमोंस संतुलन के लिए उपयोग करना सुरक्षित बताया गया है और विशेष तौर पर यह महिलाओं के हार्मोन में संतुलन करने के लिए बहुत लाभकारी सिद्ध है।

इसका इस्तेमाल स्त्रियों के लिए मासिक धर्म की अनियमितता, पीरियड में बहुत तेज दर्द होना, प्राकृतिक उम्र में होने वाले बदलाव के लिए करना अच्छा होता है।

यौन समस्याएं: Agnus Castus 30 को पुरुषों की यौन समस्याओं को सुधारने के उद्देश्य से भी प्रयोग में लाया जाता है यह नपुंसकता, कमजोरी, जल्दी थक जाना, यौन इच्छा का खत्म होना जैसी समस्या हो के इलाज में बहुत उपयोगी औषधि मानी गई है।

मानसिक स्वास्थ्य: हारमोनियम संतुलन के कारण मानसिक स्वास्थ्य पर जब बुरा प्रभाव करता है व्यक्ति महसूस करता है तो ऐसी समस्या हो में हार्मोन को फिर से संतुलन करने के लिए एक दवाई का इस्तेमाल करने के लिए सुझाव दिया जाता है।

दुष्प्रभावों का कम होना: इस दवाई का एक उद्देश्य यह होता है कि यह उपयोगकर्ता को नुकसान ना पहुंचाएं क्योंकि यह एक होम्योपैथिक दवाई है तो इसके दुष्प्रभाव होने की संभावना बहुत कम है हालांकि हर व्यक्ति पर इसके प्रभाव अलग हो सकते हैं।

> Bariffa x होम्योपैथिक दवा मर्दाना चुनौती का समाधान

> HM-41 होम्योपैथिक दवा जानिए फायदे और नुकसान

> Hashmi Lady Care Capsule महिलाओं की यौन या डिस्चार्ज की समस्या के लिए

उपयोग: (Agnus castus 30 uses in hindi)

इसे किस तरह की समस्याओं के इलाज में लाभकारी माना जाता है, जैसे:

• यह औषधि हार्मोनल असंतुलन को ठीक करने के लिए उपयोगी है।

• इसके उपयोग से मनोबल बढ़ता है व्यक्ति पहले से ज्यादा आत्मविश्वासी महसूस करता है।

• मर्दाना कमजोरी को ठीक करने में काफी असरदार है।

• समय से पहले बुढापा आने की प्रॉब्लम्स को ठीक करने में इसका इस्तेमाल किया जाता है।

• महिलाओं में बाँझपन की दिक्कत के उपचार में इसका उपयोग काफी लाभकारी रहता है।

• इच्छा शक्ति को बढ़ाने के लिए यह होम्योपैथिक दवाई अच्छी है।

• बच्चे को स्तनपान कराने के लिए स्तनो में दूध न आने में यह काफी कारगर उपाय है।

• अनियमित पीरियड और पीरियड में असहनीय दर्द के इलाज के लिए इसका उपयोग किया जाता है।

• पुरुषों में नपुंसकता के लिए यह दवाई होम्योपैथिक द्वारा अच्छे परिणाम योग्य बताई गई है।

फायदे: (Agnus castus 30 benefits in hindi)

इसके सेवन से कौन-कौन से स्वास्थ्य लाभ हो सकते हैं?

मासिक धर्म की अनियमितता में सुधार:

Agnus Castus 30 का सेवन पीरियड्स के दौरान महिलाओं को अनियमितता की प्रॉब्लम को ठीक करने के लिए यह बहुत फायदेमंद मानी जाती है साथ ही यह मासिक धर्म के दौरान असहनीय दर्द को ठीक करने के लिए भी मदद करती है।

पीरियड्स के दर्द में कमी:

कुछ महिलाओं को पीरियड के दौरान बहुत तेज दर्द होने की शिकायत रहती है उनके लिए भी यह दवाई काफी असरदार और बेहतरीन नुस्खा है लेकिन इस्तेमाल करने के लिए होम्योपैथिक चिकित्सक से सलाह लेनी जरूरी है।

हार्मोनल असंतुलन का संतुलन:

शरीर में हार्मोनल असंतुलन की समस्याओं जैसे की PCOS, बहुत आराम पहुंचाने वाली दवा है हार्मोनल असंतुलन की समस्याओं में अक्सर महिलाओं को बांझपन और पीरियड के समय दिक्कत झेलनी पड़ती है इसीलिए उपचार करने के लिए यह दवाई आपकी मदद कर सकती है।

यौन समस्याओं का इलाज:

नपुंसकता और यौन संबंधी समस्याओं में यह दवाई बहुत कामयाब तरीके से काम करती हैं महिलाओं की प्रॉब्लम हो या पुरुषों की दोनों के लिए यह सेक्स समस्याओं का हल है।

मनोबल में सुधार:

सेक्स समस्याओं का आधार मानसिक स्वास्थ्य होता है अगर व्यक्ति की दिमागी स्थिति सही है तो उसकी यौन समस्याएं भी सही बनी रहती हैं।

इसीलिए इस दवाई को इस तरह से तैयार किया गया है कि यह मानसिक स्वास्थ्य को बेहतर बनाकर आपके मनोबल में सुधार करती है।

यौन इच्छा में वृद्धि:

आजकल की लाइफस्टाइल की वजह से पुरुष और महिलाओं दोनों में यौन इच्छा की कमी देखी जा रही है इसके उपाय के रूप में आप इस दवाई को यूज़ कर सकते हैं इसका सेवन करने से यौन इच्छा में वृद्धि होती है।

फर्टिलिटी में सुधार:

फर्टिलिटी समस्याओं में इसका उपयोग किया जा सकता है अगर किसी को इस तरह की प्रॉब्लम है तो वह यह दवाई सेवन करके अपनी इस दिक्कत से छुटकारा पा सकता है।

थकान और कमजोरी को दूर करना:

यह दवाई आपके शरीर और दिमागी स्थिति को ताकत प्रदान करती है जिसकी वजह से कमजोरी व थकान दूर हो जाती हैं यानी इसका इस्तेमाल करने से थकने की समस्या नहीं होती।

प्रेमात्मक स्वास्थ्य में सुधार:

व्यक्ति में प्रेम भावना को बढ़ाने के लिए यह दवाई काम कर सकती है यानी प्रेम संबंध को मजबूत बनाने में इस दवाई को इस्तेमाल किया जा सकता है यह आपके उन हार्मोन को बढ़ाती है जिससे प्रेम की भावना बढ़े।

स्त्री रोगों में सहायक:

यह दवाई हर तरह के स्त्री रोगों के इलाज में इस्तेमाल की जा सकती है, जैसे कि एंडोमेट्राइटिस या योनि संक्रमण। या योनि से संबंधित कोई भी बीमारी हो सभी के लिए यह एक अच्छा समाधान है।

नुकसान: (Agnus Castus 30 Side effects in Hindi)

क्या कुछ साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं, और कौन-कौन सी परिस्थितियों में इसका सेवन नहीं करना चाहिए:

कुछ संभावित साइड इफेक्ट्स:

Headache (सिरदर्द): अगर आप इस दवाई को ज्यादा मात्रा में उपयोग करेंगे तो यह सिर दर्द का कारण बन सकती है आपको बहुत ज्यादा सिर दर्द रहने की दिक्कत हो सकते हैं तो इसे सीमित मात्रा में उपयोग करें।

स्वाद में कमी: स्वाद में कमी भी इसके उपयोग से देखी जा सकताी है यानी जो चीज आप खाते हैं उसका टेस्ट खराब लगे, इस तरह की दिक्कत इसके साथ हो सकती है लेकिन ऐसा तब होता है, अगर दवाई को बहुत ज्यादा मात्रा में उपयोग करेंगे।

जी मिचलाना: जी खराब होने की समस्या भी इसके सेवन से हो सकती है कुछ लोगों को यह दवाई सूट ना आने के कारण उनका जी खराब रहता है ऐसे में दवाई को कम मात्रा में लेना चाहिए और जब आदत हो जाए फिर खुराक के अकॉर्डिंग लें।

उलटी या एमीजिया (उलटी): इसका एक साइड इफेक्ट उल्टी होना भी है इस तरह की दिक्कत ज्यादातर महिलाओं को हो सकती है हालांकि पुरुषों को भी उल्टी की प्रॉब्लम देखी जाती है लेकिन यह स्वास्थ्य स्थिति के मुताबिक की होती है।

चक्कर या बेहोशी की अवस्था: अधिक मात्रा में दवाई का सेवन चक्कर और बेहोश की के नुकसान दे सकती है तो हमेशा डॉक्टर के निर्देश अनुसार ही इसका सेवन करना सुरक्षित हो सकता है।

Agnus Castus 30 को कौन-कौन सी परिस्थितियों में नहीं लेना चाहिए:

इसे निम्नलिखित स्थितियों में उपयोग नहीं करना चाहिए:

गर्भावस्था: गर्भवती महिलाओं को इस औषधि का उपयोग नहीं करना चाहिए उनके लिए यह सुरक्षित नहीं होता अगर आप फिर भी से इस्तेमाल करना चाहती है तो बिना डॉक्टर की सलाह के बिल्कुल भी इसे सेवन न करें डॉक्टर से सलाह जरूर लें।

स्त्रीयां जो स्त्री रोगों के उपचार के लिए इलाज करा रही हैं: जो महिलाएं स्त्री रोगों के लिए अपना इलाज कर रही है यानी वैजाइना में संक्रमण या कोई और दिक्कत है उसके लिए इलाज ले रहे हैं उन्हें भी इस दवाई का इस्तेमाल डॉक्टर की सलाह के अनुसार ही करना चाहिए नहीं तो यह नुकसान कर सकती है।

बच्चों को: बच्चों को भी इसका सेवन करना मना होता है और 18 साल से कम उम्र की लड़कियों और लड़कों को इस नहीं लेना चाहिए।

हॉर्मोन संबंधित समस्याओं से पीड़ित व्यक्तियों को: जिन लोगों को हारमोंस संबंधी समस्याएं हैं जिनका इलाज किसी विशेष डॉक्टर से कराया जा रहा है उनके लिए इस दवाई का इस्तेमाल करना सुरक्षित नहीं होता।

हालांकि यह हार्मोन संतुलन के लिए ही है लेकिन हर तरह के हार्मोन के लिए अलग उपचार होता है तो अगर आप हार्मोन संतुलन के नीचे से उपयोग करना चाहते हैं तो डॉक्टर से बात करें।

एलर्जी: अगर किसी व्यक्ति को दवा से एलर्जी रहती है या फिर किसी भी अलग तरह की एलर्जी हो गई है उन्हें भी यह दवाई सेवन नहीं करनी चाहिए क्योंकि यह एनर्जी को बढ़ाने की वजह भी बन सकती है।

इस्तेमाल का तरीका (Agnus Castus 30 how to use in Hindi) :

इसे सही तरीके से कैसे लेना चाहिए, और कैसे इसका सही मात्रा में सेवन करें?

Agnus Castus 30 को सही तरीके से और सही मात्रा में लेने के लिए निम्नलिखित दिशा निर्देशों का पालन करें:

डॉक्टर की सलाह: इस दवाई का सेवन करने के लिए आपको सबसे पहले डॉक्टर से परामर्श लेने की जरूरत है उन्हीं की सलाह के अनुसार इसे ले क्योंकि बिना डॉक्टर के सुझाव के यह आपको नुकसान दे सकती है।

सही मात्रा: आपके लिए इस दवाई की सही मात्रा क्या होगी यह भी डॉक्टर से पूछें, सामान्य इसे दिन में दो से तीन बार चार-चार बूंदे सीधा जीभ पर डालकर लेना बताया जाता है लेकिन हर किसी की स्वास्थ्य स्थिति अलग होती है तो सभी के लिए इसकी खुराक भी अलग हो सकती है।

खाना के साथ: इस दवाई का इस्तेमाल खाना खाने से 1 घंटे पहले या फिर भोजन करने के 1 घंटे बाद करना उपयुक्त होता है।

बिना डॉक्टर की सलाह के नहीं: ध्यान रहे किसी भी परिस्थिति में इसे बिना डॉक्टर की सलाह के न लें, विशेषकर अगर आप किसी बीमारी के लिए दवाई ले रहे हैं तो दवाई के साथ इसे लेना नुकसानदायक होगा।

सावधानियां (Precautions):

कौन-कौन सी चीजें इस दवा के सेवन के दौरान टालनी चाहिए, जैसे कि अन्य दवाओं के साथ संयोजन?

ध्यान रखें अगर आप किसी भी तरह की दवाई ले रहे हैं जैसे यौन संबंधी दवाई, बीपी की शुगर की दवाई या आपको एलर्जी है तो इन स्थितियों में यह दवाई ना लें, और अगर आप लेना चाहते हैं तो होम्योपैथिक डॉक्टर से सलाह अवश्य ले लें, और बिना उनके सुझाव के इसका इस्तेमाल करने से बचें।

इसके अलावा गर्भवती महिला को स्तनपान करने वाली स्त्रियों को और छोटे बच्चों को इस दवाई का बिल्कुल भी सेवन नहीं करना चाहिए उनके लिए यह फायदेमंद नहीं है।

कीमत: Agnus Castus 30 Price In Hindi

Agnus Castus 3 होम्योपैथिक दवा की कीमत ऑनलाइन और ऑफलाइन अलग-अलग हो सकती हैं ऑफलाइन यह दवाई बड़ी दुकानों पर मिलती है आसपास मिलना थोड़ा मुश्किल होता है।

लेकिन ऑनलाइन आप इसे अमेजॉन, फ्लिपकार्ट, मीशो और ऐसी ही साइट से खरीद सकते हैं आमतौर पर इस दवा की कीमत 30 ml की बॉतल ₹94 की होती है हालांकि समय के साथ कीमत कम या ज्यादा हो सकती है।

अन्य तथ्य (Additional Information):

उत्पाद शुद्धता:

यह एक होम्योपैथिक दवाई है जिसका असर धीरे-धीरे होता है यानी यह एकदम से आपको फायदे नहीं देगी, लगभग 1-2 महीने से लेना पड़ेगा,

उसके बाद आपको इसके लाभ दिखाई देंगे। लेकिन अगर इस तरह की दवाई को लेने के बाद आपको चार-पांच दिन में फायदे मिल रहे हैं इसका मतलब है की दवाई असली नहीं है तो गुणवत्ता और शुद्धता पर ध्यान दें।

इस दवाई को हमेशा ऐसी जगह से खरीदे जहां पर आपको विश्वास होगी आपके साथ किसी तरह का धोखा नहीं होगा यानी आपको नकली दवाई नहीं मिलेगी बिल्कुल सही और शुद्धता पूर्ण औषधि आपको प्राप्त होगी।

निर्माणकर्ता:

यह सुनिश्चित करने के लिए की यह दवाई सही है या नहीं इसके लिए आपको इसके निर्माता के बारे में जानकारी लेनी चाहिए। क्योंकि होम्योपैथिक दवाई कई तरह के निर्माता बनाते हैं तो आपको सर्टिफाइड और विश्वसनीय निर्माता से ही प्रॉडक्ट खरीदना चाहिए।

भंडारण की शर्तें:

इस दवाई को स्टोर करने के लिए भी सावधानियां बरतनी जरूरी है उसके लिए ध्यान रखें इसे सूरज की रोशनी से दूर सुखी और ठंडी जगह पर स्टोर करके रखें।

इसका उपयोग करने के बाद ढक्कन अच्छी तरह से टाइट करके बंद करें।

Saniya Qureshi is a Health and Beauty writer, senior consultant and health educator with over 5 years of experience.

Leave a Reply