पुरुषों को हमेशा sunscreen क्यों लगानी चाहिए एक्सपर्ट से जानें

Sunscreen लगाने की सलाह केवल महिलाओं के लिए ही नहीं बल्कि पुरुषों के लिए भी दी जाती है सूरज की हानिकारक किरणों से तो त्वचा पर नकारात्मक प्रभाव होता ही है हमारे घरों में लगी LED light उससे भी ज्यादा बुरे परिणाम देती है न केवल महिलाओं को बल्कि पुरुषों को भी हमेशा सनस्क्रीन लगाना महत्वपूर्ण हो गया है।

Sunscreen

अब चाहे घर में हो या बाहर सनस्क्रीन आपकी जरूरत बन गई है यह आपको सूरज से बचाने के साथ इसकी गुप्त किरणों से भी सुरक्षा देता है यानी घर में लगी एलइडी लाइट से भी यह आपको बचाती है।

लेह की चेतावनी Sunscreen Compulsary!

ऑस्ट्रेलिया लाइफ सेवर लेह राज्सो को सूरज की किरणों में रहना बहुत पसंद था इसीलिए वह अपने दिन का ज्यादातर समय धूप में बिताते थे लेकिन जागरूक न होने के कारण वह अपनी त्वचा पर सनस्क्रीन नहीं लगाते थे और इसी वजह से उन्हें 200 से ज्यादा तरह के स्किन कैंसर का सामना करना पड़ रहा है।

उनकी त्वचा पर कैंसर से हुए निशान और कराई गई सर्जरी से होने वाले निशाने से यह पता चलता है कि अगर वह त्वचा पर सनस्क्रीन का उपयोग करते, तो उनकी यह हालत न होती, क्योंकि सूरज को आप पसंद करते हैं या नहीं सूरज आपको वही प्रभाव देगा जो सभी को देता है ऐसे में सनस्क्रीन आपके लिए एक अच्छे दोस्त की तरह काम करती है।

सूरज आपका सबसे बड़ा दुश्मन बन सकता है!

पुरुषों को धूप में ज्यादा काम करना पड़ता है क्योंकि वह तरह-तरह के काम करके पैसा कमाते हैं ऐसे में उन्हें धूप में भी रहना पड़ता है शायद शुरू में धूप में रहने से आपको कोई फर्क ना पड़े। लेकिन जैसे-जैसे वक्त बिता जाता है धूप के कारण आपकी स्किन पर बेहद बुरा प्रभाव होने लगता है।

तो यह रिस्क लेने से बचना बहुत जरूरी है क्योंकि आज की आपकी लापरवाही कल बहुत बड़ी परेशानी का कारण बन सकती है जिसके लिए इलाज करने के बाद भी फिर से एक स्वस्थ जीवन शैली शुरू करना काफी मुश्किल होता है।

रिसर्च में ही पता चला है कि भांग का अर्थ त्वचा कैंसर को कम करने में मदद कर सकता है लेकिन इसके बावजूद अपना ख्याल रखना और रोकथाम पर ध्यान देना बहुत जरूरी है लापरवाही बिल्कुल नहीं चलेगी,

Sper sunscreen lotion लगाने से पहले जान लीजिए इसकी सच्चाई

खुद की रक्षा करें, सनस्क्रीन!

खोपड़ी में कैंसर होने के कारण लेह को अपनी खोपड़ी का एक हिस्सा बदलवाना पड़ा और उनकी Skin पर तरह-तरह के निशान दिखते हैं जिनका इलाज अभी भी लेह करा रहे हैं।

कुछ लोग मानते हैं कि सनस्क्रीन को धूप के सामने जाने पर ही लगाना चाहिए लेकिन Skin Experts का कहना है कि आज के टाइम पर हर इंसान को सनस्क्रीन पहने रखना जरूरी है चाहे फिर वह घर पर हो या बाहर।

क्योंकि चाहे धूप हो या बादल या फिर आपके घर की एलइडी लाइट इन सभी से हानिकारक करने आपकी त्वचा तक पहुंच सकते हैं इनसे बचने के लिए अपनी दिनचर्या में सनस्क्रीन को शामिल कर लें और रोजाना इसे जरूर लगाएं।

सिर्फ चेहरे पर नहीं?

सनस्क्रीन को सिर्फ चेहरे पर ही नहीं बल्कि गर्दन अपने कान हाथों और आपके शरीर का जो भी हिस्सा सूरज के संपर्क में आता है वहां पर अप्लाई करें क्योंकि सूरज की किरणें सिर्फ आपके चेहरे की त्वचा को ही नहीं, बल्कि बॉडी की त्वचा को भी नुकसान पहुंचाती है।

ज्यादा एसएफ वाला सनस्क्रीन लगाएं अगर आप घर पर हैं तो 25 से 30 एसएफ वाला सनस्क्रीन सही रहता है और बाहर धूप में काम करते हैं तो ऐसे में 50 एसएफ वाला सनस्क्रीन ज्यादा अच्छा रहता है। यह बिल्कुल उसी तरह से है जैसे किसी युद्ध में सुरक्षा के लिए जितना ऊंचा कवच होगा उतना ज्यादा सुरक्षा सुनिश्चित होगी।

अंत में, तो आपको ध्यान रखना है अपनी स्किन केयर में सनस्क्रीन जरूर शामिल करें न केवल सनस्क्रीन आपकी त्वचा की जरूरत है बल्कि यह आपको कैंसर से बचाने का कवच भी है इसलिए रोजाना सनस्क्रीन अप्लाई करें फिर चाहे आप धूप में जाएं या घर में रहें।

Saniya Qureshi is a Health and Beauty writer, senior consultant and health educator with over 5 years of experience.

Leave a Reply