Prostate Infection ke Lakshan | आपको कैसे पता चलेगा कि आपको प्रोस्टेट संक्रमण है?

Prostate Infection Ke Lakshan: प्रोस्टेट संक्रमण सामान्यता मूत्र संबंधी समस्याओं का मूल कारण है यह संक्रमण होने पर व्यक्ति को बार बार पेशाब आना, ज्यादा पेशाब आना, मूत्र त्याग करने में कठिनाई आदि समस्याओं का सामना करना पड़ता है।

Prostate Infection Ke Lakshan
प्रोटेस्ट इंफेक्शन के लक्षण

प्रोस्टेट क्या है? – What Is Prostate In Hindi

प्रोस्टेट शरीर की एक ग्रंथि का नाम है यह ग्रंथि सिर्फ पुरुषों में ही होती है यह एक अखरोट के बराबर की ग्रंथि है जो मूत्राशय के आसपास होती है।

तो यदि प्रोस्टेट ग्रंथि पर कोई नुकसान होता है या संक्रमण की समस्या होती है तो सबसे ज्यादा असर मूत्राशय पर पड़ता है।

इसे भी पढ़ें | थायराइड को जड़ से खत्म करने का देसी इलाज।

क्यों होता है प्रोस्टेट इन्फेक्शन? – Causes Of Prostate Infection In Hindi

• प्रोस्टेट इन्फेक्शन मुख्य रूप से बैक्टीरियल इन्फक्शन की वजह से होता है इसके अलावा यह इंफेक्शन प्रोस्टेट ग्रंथि बढ़ने की वजह से हो सकता है।

प्रोटेस्ट ग्लैंड पर चोट लगने से प्रोटेस्ट संक्रमण होने का खतरा रहता है।

• किसी मेडिकल प्रोसेस या सर्जरी के कारण जब यूरिन को निष्कासित करने के लिए कैथेटर लगाया जाता है तब भी यह इंफेक्शन हो सकता है।

एसिडिटी के कारण मूत्राशय पर असर पड़ता है तब भी प्रोटेस्ट इंफेक्शन की समस्या हो सकती है।

• इसके अलावा डॉक्टर के अनुसार ब्लैडर में कमजोरी प्रोटेस्ट इन्फेक्शन का कारण बनती है।

प्रोस्‍टेट इंफेक्‍शन के लक्षण – Symptoms Of Prostate Infection In Hindi

प्रोस्टेट समस्याओं का पहला लक्षण क्या है?

प्रोस्टेट संक्रमण होने का सबसे आम लक्षण यूरिन में दिखाई देता है। इसका पहला लक्षण पेशाब करने में तकलीफ होना, बार बार पेशाब आना, पेशाब में खून आना, मूत्र त्याग का फ्लो कम हो जाना आदि होते हैं।

Prostate Infection ke Lakshan के बारे में विस्तार से समझें।

प्रोटेस्ट इंफेक्शन के लक्षण |Prostate Infection Ke Lakshan
प्रोटेस्ट इंफेक्शन के लक्षण

1. बार-बार पेशाब आने की शिकायत होना।

प्रोटेस्ट संक्रमण होने पर व्यक्ति को बार बार पेशाब आने की समस्या होने लगती है मुख्य रूप से रात के वक्त ऐसा होता है।

2. मूत्र में खून आना।

यदि यूरिन में खून आता है तो भी प्रोस्टेट संक्रमण हो सकता है यह भी संक्रमण का एक कारण होता है।

3. पेट में दर्द।

पेट में दर्द होने की शिकायत रहना बार-बार पेट में दर्द महसूस होना यह सब भी इस संक्रमण के कारण होता है।

4. रीढ़ की हड्डी में दर्द रहना।

यदि रीड की हड्डी में दर्द बना रहे और जल्दी-जल्दी पेट दर्द की समस्या रहे तब भी प्रोटेस्ट संक्रमण हो सकता है।

5. मूत्र त्याग करने में दर्द महसूस होना।

जब पेशाब करने में दर्द महसूस हो तो भी प्रोटेस्ट ग्रंथि बढ़ सकती है यह प्रोटेस्ट संक्रमण का 1 लक्षण है।

6. शरीर में अकड़न।

यदि शरीर में अकड़न हो तो यह भी प्रोस्टेट संक्रमण का एक लक्षण हो सकता है क्योंकि प्रोटेस्ट ग्रंथि बढ़ जाने के बाद शरीर में दर्द और अकड़न रहती है।

7. बुखार।

इस संक्रमण के कारण व्यक्ति को बुखार हो सकता है बुखार के साथ शरीर में दर्द सिर दर्द कमर में दर्द पैरों में दर्द और मुख्य रूप से पेट में दर्द बना रहता है।

8. ठंड लगती है।

प्रोस्टेट इंफेक्शन से शरीर में ठंड महसूस होने लगती है यानी किसी भी मौसम में व्यक्ति को ठंड लगती है यह भी प्रोस्टेट संक्रमण का लक्षण है।

प्रोस्‍टेट इंफेक्‍शन होने की पुष्‍टी कैसे होगी? – How will Prostate Infection Is Diagnosed

प्रोटेस्ट इंफेक्शन या संक्रमण की जांच के लिए फिजिकल और मेडिकल टेस्ट किया जाता है जिसमें यह जांच की जाती है कि व्यक्ति को कैंसर तो नहीं है।

हालांकि प्रोटेस्ट संक्रमण का मतलब प्रोटेस्ट कैंसर नहीं होता, Prostate Infection होने पर इसकी रोकथाम करके ठीक किया जा सकता है यह कैंसर नहीं होता।

इसके अलावा प्रोस्टेट संक्रमण का पता लगाने के लिए बायोप्सी (Biopsy) भी की जाती है इस टेस्ट में ब्लड टेस्ट करने के बाद संक्रमण है कि नहीं, इसका पता लगाया जाता है।

Ultrasound इस संक्रमण के बारे में जानकारी देता है तो अल्ट्रासाउंड के द्वारा भी इसका पता लगाया जाता है।

प्रोस्टेट इंफेक्शन में दर्द कहां महसूस होता है?

प्रोटेस्ट ग्रंथि बढ़ जाने या इसमें संक्रमण होने पर आपको कई तरह के दर्द हो सकते हैं जैसे पेट के निचले हिस्से में दर्द, पीठ के निचले हिस्से में दर्द होना।

इसके अलावा पूरे शरीर में दर्द, अकड़न की शिकायत और बुखार होना ठंड लगना आदि होता है।

मूत्र करते समय दर्द महसूस होता है।

इसे भी पढ़ें | सपिस्तान क्या है और इसके स्वास्थ्य लाभ क्यों शानदार होते हैं?

प्रोस्टेट इंफेक्शन में क्या परहेज करना चाहिए?

यदि प्रोस्टेट संक्रमण के लक्षण नजर आए तो तुरंत डॉक्टर से जांच कराएं और इन चीजों का परहेज रखें।

• ज्यादा मसाले वाले भोजन ना करें।

• मांस मछली और अंडा आदि अपनी डाइट में शामिल करने से बचें।

• चाय और कॉफी का सेवन करना बंद कर दें।

• सैचुरेटेड फैट्स जो कोलेस्ट्रोल को बनाने का कारण बनता है तो इसके सेवन से बचें।

प्रोस्टेट संक्रमण होने पर किन चीजों का सेवन करना चाहिए।

यदि आपको protest infection के लक्षण नजर आते हैं और इस संक्रमण से छुटकारा पाना चाहते हैं तो इन चीजों को अपनी Diet में शामिल करें।

• ताजे फल।

• हरी सब्जियां।

• ड्राई फ्रूट।

सभी तरह की दाल।

इसे भी पढ़ें | हर तरह की बीमारी को ठीक करने में मदद करता है सब्जियों का जूस जाने कैसे करें सेवन।

प्रोस्टेट इंफेक्शन का इलाज – Treatment Of Prostate Infection In Hindi

प्रोस्टेट इन्फेक्शन को ठीक करने के लिए कुछ घरेलू उपाय यह है।

* हल्दी के दूध का सेवन करें।

हल्दी में एंटीबैक्टीरियल और एंटी इन्फ्लेमेटरी गुण होते हैं तो यदि आप इसका सेवन करते हैं तो यहीश इंफेक्शन को खत्म करने और आपको इन्फक्शन से हो रही समस्याओं से बचाने में मदद करती हैं।

* ज्यादा पानी पीने की आदत बनाएं।

इस संक्रमण को ठीक करने में पानी भी आपकी मदद कर सकता है पानी का सेवन पर्याप्त मात्रा में पानी करें, जिससे यूरिन के जरिए इंफेक्शन धीरे धीरे ठीक होने लगेगा।

* एंटीबायोटिक का इस्तेमाल।

इंफेक्शन को ठीक करने के लिए डॉक्टर द्वारा एंटीबायोटिक का उपयोग करने की सलाह दी जा सकती है।

यदि आप एंटी-बायोटिक दवाइयों के द्वारा इंफेक्शन ठीक रहे हैं तो उसका कोर्स पूरा करें ताकि आपका इन्फेक्शन पूरी तरह से ठीक हो।

* गर्म पैड या पानी से सिकाई।

गर्म पानी से पेट की सिकाई करने पर भी इन्फेक्शन में राहत मिलती है।

* अच्छा खानपान रखें।

यदि आप अच्छा खाना-पीना करते हैं और ज्यादा खराब चीजें खाने से खुद को रोकते हैं जैसे चाय मांस आदि तब भी आप इस इंजेक्शन को जल्दी ठीक कर सकते हैं।

* एक्सरसाइज करें।

एक्सरसाइज भी इंफेक्शन को ठीक करने में बहुत लाभकारी होती है प्रोस्टेट इन्फक्शन को ठीक करने के लिए एक्सरसाइज करने की आदत बनाएं।

इस इंफक्शन को ठीक करने के लिए आपको कोई विशेष एक्सरसाइज नहीं चाहिए बल्कि रोजाना केवल 20 मिनट इस तरह का व्यायाम करें की पेट पर जोर पड़े।

* योगासन की सहायता लें।

जैसा कि हमें पता ही है कि योगासन हर तरह की समस्याओं को सुलझाने में मदद करते हैं योगासन से व्यक्ति किसी भी तरह की समस्याओं को पूरी तरह से खत्म कर सकता है।

तो यह प्रोटेस्ट ग्रंथि बढ़ने को नियंत्रित करके इस संक्रमण को ठीक करने में भी मददगार है योगासन करके आप प्रोस्टेट संक्रमण को जड़ से खत्म कर सकते हैं।

इस संक्रमण को ठीक करने के लिए ध्यान आसन, प्राणायाम, सुखासन, भुजंगासन जैसे योगासन आपकी मदद कर सकते हैं।

इसे भी पढ़ें | हर्ब 69 वाइट कैप्सूल पुरुषों की ताकत बढ़ाने का अचूक उपाय।

प्रोटेस्ट संक्रमण से बचने के लिए इन बातों का विशेष ध्यान रखें।

शराब का सेवन ना करें, कैफीन युक्त पदार्थों से दूर रहें, ज्यादा मिर्च मसाले वाला खाना ना खाएं, तला हुआ भोजन खाने से बचें।

अंतिम शब्द।

प्रोटेस्ट संक्रमण होने पर इसका इलाज करना मुश्किल नहीं है इसे आप आसानी से ठीक कर सकते हैं यदि आप समय रहते डॉक्टर से जांच कराकर इलाज करना शुरू कर दें।

डॉक्टर के परामर्श पर इलाज करने के साथ कुछ सावधानियों का भी ध्यान रखना है अर्थात परहेज करना है।

क्योंकि यदि आप इलाज करने के साथ परहेज नहीं करते तो इलाज पूरी तरह से नहीं होगा और संक्रमण भी पूरी तरह से ठीक नहीं हो पाएगा।

प्रोटेस्ट इंफेक्शन को ठीक करने के लिए इन तरीकों को जांचें।

Check On Amazon All .

Latest Post

Leave a Reply

%d bloggers like this: