nine pad review in hindi | क्या यह वाकई महिलाओं के लिए सही हैं?

आज हम nine pad का review करने वाले हैं यह एक पीले कलर की पैकेज में आते हैं इसमें साथ पेड़ होते हैं और साथ में इसके अंदर रखे होते हैं सात डिस्पोजल बैग जिसमें पैक करके इन्हें कूड़ेदान में डाला जाता है जो की अच्छी बात है इसका एक पैकेट ₹30 में आता है।

इसकी नॉरमल लेंथ 230 एमएम की होती है और अगर आप इसे एक्स्ट्रा लोंग साइज में खरीदेंगे तो 270 एमएम की इसकी लेंथ आती है।

Nine pad review in hindi
Nine pad review in hindi

मैंने इसे खुद इस्तेमाल किया है पिछले तीन से चार महीने मैं इसका उसे करके देखा है और सच में मुझे यह पसंद आए हैं काफी कंफर्टेबल है और अफोर्डेबल भी हैं ₹30 का पैकेट आता है जिसमें साथ पैड्स होते हैं इसके अच्छी बात यह है कि इसमें डिस्पोजल पैक भी होता है तो इसे फेंकने के लिए अलग से पेपर की जरूरत नहीं पड़ती।

साथ ही इस इस तरह के फार्मूले से बनाया गया है जिससे यह काफी मुलायम और कॉटन की तरह आरामदायक रहता है तो इसका उपयोग करने पर ज्यादा अनकंफरटेबल फील नहीं होता।

उपयोग कैसे करें – nine pad uses in hindi

इसे कैसे उपयोग करना है यह इसके पैकेट पर डिटेल में लिखा होता है तो आप उसे पढ़कर इसे इस्तेमाल कर सकते हैं लेकिन फिर भी हम बात कर लेते हैं कि आप कैसे इस्तेमाल करेंगी:

तो हम इसे इस्तेमाल करने के बारे में इसके पैकेट पर लिखे अनुसार ही बात करेंगे इस पर लिखा होता है कि इसके पीछे लगे स्टिकी पेपर को हटाए और पैड अपनी पैंटी पर चिपका दें।

उसके बाद इसके दोनों और निकले हुए पथ पर लगे स्टिकी पेपर को भी हटाएं और उन्हें मोड कर अपनी पेंटी के कोनों पर पीछे की तरफ चिपका दें इस तरह यह पूरी तरह से आपकी पैंटी पर अच्छे से फिट हो जाएगा।

उसके बाद इसे डिस्पोज करने के लिए आपको इस बात का ध्यान रखना है कि टॉयलेट में फ्लैश ना करें टॉयलेट में ना फेक बल्कि इसके अंदर दिए गए डिस्पोजल बैग में लपेटकर कूड़ेदान में डालें।

क्योंकि यह कॉटन की तरह मुलायम होते हैं तो इसे रैशेज होने की प्रॉब्लम बहुत कम हो सकती है लेकिन उसके लिए आपको इन्हें टाइम तो टाइम बदलते रहना पड़ेगा दो से तीन घंटे में पैड को जरूर बदल लें।

तो इस तरह से आप इन पैड का इस्तेमाल कर सकते हैं यह सभी instructions इसके पैकेट पर भी लिखे होते हैं तो सही तरह से आप उस पर पढ़ सकते हैं।

Stomach cure syrup फायदे नुकसान उपयोग कीमत पर पूरी जानकारी

इसके फायदे – nine pad benefits in hindi

Nine pad के यह फायदे होते हैं:

1. हैवी फ्लो कवरेज के लिए अच्छे हैं:

Nine pad हेवी फ्लो के लिए अच्छे हैं यह इस्तेमाल करने पर हेवी फ्लो होने पर भी आपको बहुत ज्यादा प्रॉब्लम नहीं होगी क्योंकि इनका इस्तेमाल करने से हैवी फ्लोर में भी सुविधाजनक रहने में मदद मिलती है।

2. बजट फ्रेंडली है:

यह एक बजट फ्रेंडली भी है इसका एक पैकेट ₹30 में आता है जिसमें ₹3 ऑफ भी मिलता है और एक महीने में आपको लगभग दो पैकेट की जरूरत पड़ती है जिसमें ₹60 खर्च होते हैं तो इस तरह यह बजट फ्रेंडली भी है।

3. कंफर्टेबल रहते हैं:

यह कंफर्टेबल भी रहते हैं इन्हें अपनी पैंटी पर चिपक कर आपको बहुत कंफर्टेबल महसूस होता है 2 से 3 घंटे तक इनका इस्तेमाल सामान्य तौर पर किया जा सकता है।

4. साथ में डिस्पोजल बैग आते हैं:

इनकी सबसे अच्छी बात यह है कि इनके साथ डिस्पोजल बैग भी आते हैं इसके डिस्पोजल बाग आम तौर पर पेड़ के साथ आने वाले डिस्पोजल बाग से ज्यादा अच्छे होते हैं पैकेट पर लिखा भी होता है कि आपको इन्हें कैसे डिस्पोज करना है अपने पेट को मोड़कर के बैग में डालकर बैग को सील बंद करके कूड़ेदान में डालें।

5. रैशेज को कंट्रोल करते हैं:

इसके पैकेट पर लिखा होता है कि यह रैशेज को कंट्रोल भी करते हैं और इस तरह का फायदा आपको मिल सकता है लेकिन उसके लिए आपको इन्हें हर 2 से 3 घंटे में चेंज करते रहना पड़ेगा।

6. कॉटन की तरह सॉफ्ट आते हैं:

इसकी एक अच्छी बात यह भी है कि इसका जो ऊपरी भाग होता है वह काफी सॉफ्ट और रुई की तरह मुलायम होता है तो इसके इस्तेमाल करने पर काफी सॉफ्ट महसूस होता है एक कोमल सी फीलिंग आती है।

7. गंदी बदबू नहीं आती:

इसके पैकेट पर यह भी लिखा होता है कि इसका इस्तेमाल करने से आपको गंदी बदबू नहीं आती। और यह काफी हद तक सही भी है इसे इस्तेमाल करने से बदबू बहुत ज्यादा महसूस नहीं होती।

इसके क्या नुकसान हैं – nine pad side effects in hindi

किसी भी प्रोडक्ट को इस्तेमाल करने से अगर फायदे होते हैं तो कुछ नुकसान भी जरूर होते हैं तो इनसे भी आपको कुछ तरह के नुकसान हो सकते हैं लेकिन इसके नुकसान केवल तभी होंगे अगर आप इन्हें गलत तरीके से इस्तेमाल करेंगी। लेकिन अगर आप सही नियम फॉलो करके इस्तेमाल करेंगे तो नुकसान नहीं होंगे।

• इन पैड को ज्यादा समय तक लगाए रखने से त्वचा पर खुजली और जलन महसूस हो सकती है।

• यह त्वचा पर सूजन का कारण भी बन सकते हैं।

• इनका इस्तेमाल करने से स्क्रीन पर लाल होने जैसी समस्या भी हो सकती है

• स्किन एलर्जी और रैशेज का कारण भी यह बन सकते हैं।

तो अगर आप इन पैड्स का इस्तेमाल करने के दौरान इन सभी प्रॉब्लम से बचना चाहती हैं तो इन्हें हर दो से तीन घंटे में बदलती रहें और इस्तेमाल करने के लिए instructions को ठीक से पढ़ें।

Saniya Qureshi is a Health and Beauty writer, senior consultant and health educator with over 5 years of experience.

Leave a Reply