Hydrangea Arborescens Mother Tincture Uses in Hindi

हाइड्रेंजिया आर्बोरेसेंस मदर टिंचर एक होम्योपैथिक दवा है इसे हाइड्रेंजियाकिया या सेक्सी सैक्सीफेरागैसिया परिवार के पौधे सेवेन-बार्क्स की सामग्री से तैयार किया जाता है।

इस दवाई को विशेष रूप से मूत्र पथ की समस्याओं जैसे कि बढ़े हुए प्रोस्टेट, गुर्दे की पथरी, मूत्र में रक्त, और बार-बार पेशाब आना के इलाज के लिए उपयोग किया जाता है।

इसमें जलनरोधी और एंटीऑक्सीडेंट गुण भी पाए जाते हैं हालांकि इस दवा को लेने के लिए, पहले एक होम्योपैथिक चिकित्सक से परामर्श करने की सलाह दी जाती है।

Hydrangea Arborescens Mother Tincture क्या है?

A woman taking Hydrangea Arborescens Mother Tincture
Hydrangea Arborescens Mother Tincture Uses in Hindi

हाइड्रेंजिया आर्बोरेसेंस मदर टिंचर हाइड्रेंजिया पौधे की जड़ और प्रकंद से बना होम्योपैथिक उपचार है।

इस दवाई का उपयोग मुख्य रूप से मूत्र संबंधी समस्याओं के इलाज के लिए किया जाता है इसके अलावा यह और भी कई स्वास्थ्य से जुड़ी प्रॉब्लम का उपचार करती है।

मुख्य सामग्री: हाइड्रेंजिया आर्बोरेसेंस

Mother Tincture के उपयोग – Hydrangea Arborescens Mother Tincture Arborescens uses in hindi

SBL हाइड्रेंजिया आर्बोरेसेंस मदर टिंक्चर के यह उपयोग होते हैं –

इसे आप बढ़े हुए प्रोस्टेट और पेशाब की आवृत्ति में वृद्धि होने की समस्या के उपचार के लिए इस्तेमाल कर सकते हैं।

यह एक प्रभावी होम्योपैथिक उपाय है जो गुर्दे की पथरी से जुड़ी शिकायतों के इलाज में मदद करती है।

बढ़े हुए प्रोस्टेट की समस्या को सुधारने में अच्छा काम करती है।

यह गुर्दे की पथरी को निकालने में भी काफी कारगर है।

Hydrangea Arborescens Mother Tincture के क्या फायदे हैं?

इस उपाय के कुछ लाभ हैं:

  • यह दवाई कुछ ब्लड सम्बन्धी दिक्कतों को कम करके आपके गुर्दे की रक्षा कर सकती है जो कि गुर्दे की क्षति का संकेत देते हैं, जैसे रक्त यूरिया नाइट्रोजन (बीयूएन), रक्त क्रिएटिनिन, और मूत्र एल्ब्यूमिन उत्सर्जन (यूएई)।
  • इसके सेवन से गुर्दे में सूजन और कोशिका मृत्यु को कम किया जा सकता है।
  • इसका उपयोग मूत्र में सफेद अक्रिस्टलीय लवण को घोलकर पथरी बनने से रोक सकता है।
  • यह औषधि आपको गुर्दे के क्षेत्र और मूत्रमार्ग में दर्द और खराश से छुटकारा दिला सकती है।

Hydrangea Arborescens Mother Tincture के दुष्प्रभाव –

इस उपाय के कुछ दुष्प्रभाव हैं:

  • इसे ज्यादा मात्रा में सेवन करने पर यह मतली, उल्टी या दस्त का कारण बन सकता है।
  • कुछ लोगों को इससे त्वचा पर लाल चकत्ते, खुजली या सूजन जैसी एलर्जी प्रतिक्रियाएं हो सकती हैं।
  • यह लिथियम, मूत्रवर्धक या रक्तचाप की दवाओं जैसी कुछ दवाओं के साथ परस्पर क्रिया कर सकता है।
  • अगर आप की चिकित्सा स्थिति खराब है और आप किसी तरह की दवाई ले रहे हैं तो इस औषधि को लेने से पहले डॉक्टर से परामर्श जरूर लें।
  • यह भी ध्यान रखें जो खुराक आपको डॉक्टर ने निर्देशित की है केवल उतनी ही मात्रा में किस दवाई का उपयोग करें ज्यादा मात्रा में इसका सेवन करने से स्वास्थ्य पर नकारात्मक प्रभाव पड़ सकता है।
  • ध्यान रखें एक बार में 2 ग्राम से अधिक सूखे हाइड्रेंजिया प्रकंद/जड़ का उपयोग न करें ऐसा करना असुरक्षित है।
  • और लंबे समय तक हाइड्रेंजिया का सेवन करना भी स्वास्थ्य के लिए सही नहीं होता।

यह उपाय गुर्दे की पथरी को कैसे घोलता है?

हाइड्रेंजिया अर्बोरेसेंस मदर टिंचर मूत्र में कैल्शियम और अन्य खनिज आदि के जमाव को तोड़ता है तथा पथरी बनने की संभावना को कम करता है।

इसमें हाइड्रेंजिन नाम का एक योगिक मौजूद होता है जो एक ग्लाइकोसाइड है यह बकरी को खोलकर शरीर से बाहर निकालने में मदद करता है तथा पथरी बनने से रोकता है।

इसके अलावा यह पथरी के कारण होने वाले दर्द को कम करता है तथा इसकी वजह से आई सूजन से भी राहत दिलाता है।

Hydrangea Arborescens Mother Tincture का इस्तेमाल कैसे करें?

Hydrangea Arborescens Mother Tincture को इस्तेमाल करने के लिए इसकी 10-15 बंधुओं को लगभग आधे कप पानी में मिलाकर दिन में दो बार लेने के लिए बताया जाता है।

या आप इस दवाई का इस्तेमाल अपने चिकित्सक के निर्देशों के अनुसार करें क्योंकि डॉक्टर आपको इस बारे में ज्यादा बेहतर जानकारी दे सकते हैं।

>> Energy 365 Oil ke fayde aur nuksan

Hydrangea Arborescens Mother Tincture सुरक्षा संबंधी जानकारी:

इस दवाई का उपयोग करने से पहले इस पर लिखे लेबल को ध्यान से पढ़ें।

इसे बच्चों की बहुत से दूर रखें।

इसका ज्यादा अच्छा परिणाम पाने के लिए दवाई को चिकित्सक की देखरेख में ही सेवन करें।

सीधे धूप से दूर रखें ठंडी और सुखी जगह पर इंस्टॉल करके रखें।

इसे लंबे समय तक या गर्भावस्था के दौरान उपयोग न करें, क्योंकि इससे भ्रूण को विषाक्तता या नुकसान हो सकता है।

अगर आपको इस दवाई की किसी भी सामग्री से एलर्जी होती है तो इसे इस्तेमाल करना बंद करें तथा डॉक्टर से संपर्क करें।

यदि आप लिथियम, मूत्रवर्धक, या रक्तचाप की दवाएं ले रहे हैं तो इसका उपयोग न करें, क्योंकि यह उनके साथ परस्पर क्रिया कर सकती है और प्रतिकूल प्रभाव पैदा कर सकती है।

अगर आप किसी अन्य दवाई का सेवन कर रहे हैं तो इस दवाई को लेने से पहले अपने चिकित्सक से जरूर सलाह लें।

इस दवाई को ज्यादा मात्रा में लेने से नुकसान हो सकता है इसीलिए निर्धारित मात्रा का ही सेवन करें।

यदि आपको इसके सेवन से कोई नुकसान नजर आए तो इससे लेना बंद कर दें।

इसके पौधे के बारे में जानकारी –

हाइड्रेंजिया 70 से अधिक पौधों की प्रजातियों का एक जीनस है जो हाइड्रेंजियासी परिवार से जुड़ा है।

यह एशिया और उत्तरी अमेरिका के मूल निवासी पौधे हैं और लोकप्रिय सजावटी भी इन्हें माना जाता है जो उनके बड़े और रंगीन फूलों के सिर के कारण है।

हाइड्रेंजस के सबसे आम प्रकार मोफ़ीड और लेसकैप हैं, जिनमें सफेद, नीले, गुलाबी, लाल, बैंगनी और हरे रंग के फूलों के गोल सिर होते हैं।

हाइड्रेंजस झाड़ियों या पर्वतारोहियों के रूप में विकसित हो सकते हैं और ऊंचाई में 20 फीट तक पहुंच सकते हैं। यह आंशिक छाया और नम, अच्छी जल निकासी वाली मिट्टी पसंद करते हैं।

मिट्टी के पीएच के आधार पर कुछ हाइड्रेंजस अपने फूलों का रंग बदल सकते हैं। अम्लीय मिट्टी नीले फूल पैदा करती है और क्षारीय मिट्टी गुलाबी फूल पैदा करती है।

Saniya Qureshi is a Health and Beauty writer, senior consultant and health educator with over 5 years of experience.

Leave a Reply